News Nation Logo
कर्नाटकः कोडागू जिले के जवाहर नवोदय विद्यालय में 32 बच्चे कोरोना पॉजिटिव महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप वासले हुए कोरोना पॉजिटिव कोरोना अपडेटः पिछले 24 घंटे में देश में 16,156 केस आए, 733 मरीजों की मौत हुई जम्मू-कश्मीरः डोडा में खाई में गिरी मिनी बस, 8 लोगों की मौत आर्य़न खान ड्रग्स केस में गवाह किरण गोसावी पुणे से गिरफ्तार पेट्रोल और डीजल के दामों में 35 पैसे की बढ़ोतरी कैप्टन अमरिंदर सिंह आज फिर मुलाकात करेंगे गृह मंत्री अमित शाह से क्रूज ड्रग्स मामले में आर्यन खान की जमानत पर आज फिर दोपहर में सुनवाई पीएम नरेंद्र मोदी आज आसियान-भारत शिखर वार्ता को करेंगे संबोधित दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पंजाब के दो दिवसीय दौरे पर आज जाएंगे

पाकिस्तान अफगानिस्तान से शरणार्थियों की नई आमद को स्वीकारे : संयुक्त राष्ट्र निकाय

पाकिस्तान अफगानिस्तान से शरणार्थियों की नई आमद को स्वीकारे : संयुक्त राष्ट्र निकाय

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 18 Sep 2021, 03:05:02 PM
Pak aked

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र के उच्चायुक्त फिलिपो ग्रांडी ने पाकिस्तान से अफगानिस्तान से शरणार्थियों की नई आमद को स्वीकार करने के लिए कहा है। विश्व निकाय ने कहा कि अगर इन शरणार्थियों को दस्तावेजों की कमी के कारण वापस भेज दिया गया, तो उन्हें यहां जोखिमों का सामना करना पड़ सकता है।

डॉन न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने कहा कि ये शरणार्थी अल्पसंख्यकों हो सकते हैं या उनके पास अन्य मुद्दे हो सकते हैं।

ग्रांडी ने कहा कि भविष्य अनिश्चितताओं और जोखिमों से भरा है, लेकिन यह महत्वपूर्ण है कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में हम आगे बढ़ने और अफगानिस्तान और क्षेत्र को आपदा से बचाने के लिए तालिबान के साथ जुड़ना जारी रखें।

उन्होंने कहा शरणार्थियों का कोई बड़ा प्रवाह नहीं है, लेकिन कुछ अफगान पाकिस्तान आए थे, और उनकी विशिष्ट जरूरतें हो सकती हैं।

ग्रैंडी ने कहा कि पाकिस्तान शरणार्थियों को लेकर बहुत सावधान है और यह जांचने के लिए बहुत सतर्क रहना चाहता है कि कौन देश में प्रवेश कर रहा है।

उन्होंने दावा किया कि अफगानिस्तान में सुरक्षा की स्थिति में सुधार हो रहा है और संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (यूएनएचसीआर) मानवीय सहायता को बढ़ाने में सक्षम होगी यदि संगठन को पर्याप्त रूप से समर्थन और संसाधन दिया गया।

उन्होंने चेतावनी दी, सुरक्षा की स्थिति में सुधार हुआ है, लेकिन हम आतंकवाद खतरे के बारे में चिंतित हैं। हमें उम्मीद है कि नया प्रशासन एकजुट है और उनके बीच मतभेद नहीं हैं। अन्यथा, यह अस्थिरता का कारक होगा।

रिपोर्ट में कहा गया है कि ग्रैंडी ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को अफगानिस्तान राज्य और उसके संस्थानों के कामकाज का समर्थन करने के तरीके खोजने चाहिए।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 18 Sep 2021, 03:05:02 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो