News Nation Logo
Banner

अब बिलावल भुट्टो (Bilawal Bhutto) उड़ाएंगे पीएम इमरान खान (PM Imran Khan) की नींद, उठाएंगे यह बड़ा कदम

बिलावल (Bilawal Bhutto) ने कहा कि मौजूदा सरकार ने जनता में अपनी विश्वसनीयता खो दी है क्योंकि उसने अपने किसी भी वादे को पूरा नहीं किया है. पाकिस्तान (Pakistan) में सभी विपक्षी दलों ने फैसला किया है कि खान (PM Imran Khan) को पद छोड़ देना चाहिए.

IANS | Updated on: 19 Oct 2019, 10:52:33 AM
बिलावल भुट्टो जरदारी

बिलावल भुट्टो जरदारी (Photo Credit: IANS)

highlights

  • बिलावल ने कहा, हम दिखावे वाले लोकतंत्र को स्‍वीकार नहीं कर सकते
  • बोले, पीएम इमरान खान ने जनता की विश्‍वसनीयता खाे दी है
  • हम पूरे देश का दौरा करेंगे और जब लौटेंगे तो आपको (इमरान) जाना ही होगा

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (PPP) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी (Bilawal Bhutto Jardari) ने देश में 'वास्तविक' लोकतंत्र को बहाल करने के लिए सरकार विरोधी प्रदर्शनों की घोषणा की है. समाचार पत्र 'द एक्सप्रेस ट्रिब्यून' के मुताबिक, पीपीपी (Pakistan Peoples Party) प्रमुख ने शुक्रवार रात एक जनसभा में कहा कि "हमारी मांग (देश में) लोकतंत्र (Democracy) को बहाल करने की है." उन्होंने कहा "हम इस दिखावे वाले लोकतंत्र को स्वीकार नहीं करते.. जनता के लोकतांत्रिक और सामाजिक-आर्थिक अधिकारों को बहाल किया जाना चाहिए.. और इसके लिए प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) को इस्तीफा देना चाहिए."

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान में बाल-बाल बची प्रिंस विलियम और केट की जान, जानें क्या है पूरा मामला

बिलावल ने कहा कि मौजूदा सरकार ने जनता में अपनी विश्वसनीयता खो दी है क्योंकि उसने अपने किसी भी वादे को पूरा नहीं किया है. पाकिस्तान में सभी विपक्षी दलों ने फैसला किया है कि खान को पद छोड़ देना चाहिए. उन्होंने कहा, "हमारा सरकार विरोधी आंदोलन कराची से शुरू हुआ है."

उन्होंने कहा कि पीपीपी 23 अक्टूबर को थार में विरोध प्रदर्शन करेगी, 26 को कशमोर में प्रदर्शन करेगी जबकि पंजाब में रैलियां 1 नवंबर से शुरू होंगी. बिलावल ने कहा, "हम पूरे देश का दौरा करेंगे और जब हम कश्मीर से लौटेंगे, तो आपको (खान) को जाना होगा .. हम देश के हर नुक्कड़ और कोने में आपकी अक्षमता को उजागर करेंगे."

यह भी पढ़ें : कमलेश तिवारी हत्याकांड : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने डीजीपी, डीएम से आरोपियों को तत्काल पकड़ने को कहा

उन्होंने कहा, "इमरान खान में 20 करोड़ की आबादी वाले देश पर शासन करने की न तो क्षमता है और न ही गंभीरता." उन्होंने आगे कहा कि संसद को किनारे कर दिया गया है और राजनेता सड़कों पर उतर आए हैं.

First Published : 19 Oct 2019, 10:52:33 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×