News Nation Logo
Banner

N Korea ने प्योंगयांग हवाई क्षेत्र से दागी 2 मिसाइलें, अमेरिका की भवें तनी

उत्तर कोरिया ने 5 और 11 जनवरी को अपनी स्व-घोषित हाइपरसोनिक मिसाइल का भी परीक्षण किया, जिससे अमेरिका के साथ परमाणु वार्ता में गतिरोध के बीच तनाव बढ़ गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 17 Jan 2022, 01:49:15 PM
Missile

उत्तर कोरिया बैलिस्टिक और हाइपरसोनिक मिसाइलों का कर रहा परीक्षण. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • दक्षिण कोरिया और अमेरिका के खुफिया अधिकारी विस्तृत विश्लेषण कर रहे
  • 5 जनवरी और पिछले हफ्ते हाइपरसोनिक मिसाइल का भी परीक्षण किया

सियोल:  

उत्तर कोरिया ने सोमवार को प्योंगयांग में एक हवाई क्षेत्र से पूर्व की ओर दो बैलिस्टिक मिसाइलें दागीं है. जेसीएस ने बिना किसी विवरण के एक बयान में कहा, अधिक विशिष्ट जानकारी के लिए, दक्षिण कोरिया और अमेरिका के खुफिया अधिकारी विस्तृत विश्लेषण कर रहे हैं. नवीनतम हमला तीन दिन बाद हुआ है जब उत्तर ने दो संदिग्ध छोटी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइलों को पूर्वी सागर में लॉन्च किया, जिसे बाद में फायरिंग ड्रिल के दौरान रेलवे-जनित रेजिमेंट द्वारा निर्देशित मिसाइल होने का दावा किया गया था.

अमेरिका संग बढ़ा तनाव
पिछले हफ्ते प्योंगयांग ने अमेरिका द्वारा हाल ही में सामूहिक विनाश के हथियारों और बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रमों में शामिल छह उत्तर कोरियाई लोगों पर नए प्रतिबंध लगाने के लिए मजबूत और निश्चित प्रतिक्रिया की चेतावनी दी थी. उत्तर कोरिया ने 5 और 11 जनवरी को अपनी स्व-घोषित हाइपरसोनिक मिसाइल का भी परीक्षण किया, जिससे अमेरिका के साथ परमाणु वार्ता में गतिरोध के बीच तनाव बढ़ गया है.

दक्षिण कोरिया ने मिसाइल दागी जाने का किया दावा
हालांकि दक्षिण कोरिया सेना के दावे के मुताबिक उत्तर कोरिया ने सोमवार को पूर्वी सागर की ओर एक अज्ञात मिसाइल दागी. समाचार एजेंसी योनहाप ने बताया कि ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ (जेसीएस) ने पत्रकारों को भेजे गए एक संदेश में लॉन्च की घोषणा की. यह विस्तृत जानकारी नहीं है. उत्तर कोरिया ने 5 जनवरी और पिछले हफ्ते मंगलवार को अपनी स्वघोषित हाइपरसोनिक मिसाइल का भी परीक्षण किया, जिससे अमेरिका के साथ परमाणु वार्ता में गतिरोध के बीच तनाव बढ़ गया है.

First Published : 17 Jan 2022, 01:49:00 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.