News Nation Logo

नेपाल ने विदेशी पर्यटकों के लिए वीजा ऑन अराईवल फिर से शुरू किया

नेपाल ने विदेशी पर्यटकों के लिए वीजा ऑन अराईवल फिर से शुरू किया

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 24 Sep 2021, 12:00:01 PM
Nepal reume

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

काठमांडू: नेपाल ने उन विदेशी पर्यटकों के लिए आगमन पर वीजा सेवा फिर से शुरू कर दी है, जिन्हें महामारी से प्रभावित पर्यटन क्षेत्र को पुनर्जीवित करने के उद्देश्य से कोविड-19 के खिलाफ पूरी तरह से टीका लगाया गया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, संस्कृति, पर्यटन और नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने गुरुवार को जारी एक यात्रा परामर्श में कहा कि विदेशी पर्यटक नेपाल आगमन से पहले कम से कम 14 दिनों में वायरस के खिलाफ पूरी तरह से टीका लगाए गए दस्तावेज दिखाने के बाद आगमन पर वीजा प्राप्त करने में सक्षम होंगे।

इसके अलावा, विदेशी पर्यटकों को नेपाल के लिए बोडिर्ंग उड़ानों के लिए चेक-इन करने से 72 घंटे पहले पीसीआर परीक्षणों में कोविड के लिए निगेटिव परीक्षण के बारे में दस्तावेज दिखाने होंगे, होटल बुकिंग का सबूत और नेपाली अधिकारियों द्वारा जारी परमिट अगर विदेशी पर्वतारोहण और ट्रेकिंग के लिए नेपाल आ रहे हैं, वो भी दिखाने होंगे।

विदेशी आगंतुकों को उनके आगमन के बाद एंटीजन परीक्षणों से गुजरना होगा, और अगर वे कोरोना पॉजिटिव आते हैं तो उन्हें आईसोलेशन में रहना होगा।

यह पहली बार है जब दक्षिण एशियाई देश ने पिछले साल मार्च में महामारी की पहली लहर की चपेट में आने के बाद सेवा को निलंबित करने के बाद विदेशी पर्यटकों के लिए आगमन पर वीजा सुविधा फिर से शुरू की है।

मंत्रालय की संयुक्त सचिव लक्ष्मी कुमारी बसनेत ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया, महामारी से तबाह हुए पर्यटन क्षेत्र को बचाने के लिए आगमन पर वीजा फिर से शुरू करने का निर्णय लिया गया।

दूसरी ओर, हाल के दिनों में नेपाल में कोविड-19 के मामले भी कम हो रहे हैं और यहां तक कि स्कूल भी फिर से खोले जा रहे हैं। इसलिए, पर्यटन क्षेत्र को लगातार बंद रखना उचित नहीं होगा।

गुरुवार को, नेपाल ने 941 नए पुष्ट मामलों और 13 लोगों की मौत की सूचना दी, जिससे संक्रमण और मौतों की कुल संख्या बढ़कर 788,769 और 11,072 हो गई।

आव्रजन विभाग के प्रवक्ता झंका नाथ ढकाल के अनुसार, इससे पहले, केवल नेपाली मूल के विदेशी, राजनयिक और अधिकारियों द्वारा अनुशंसित लोग ही आपातकालीन उद्देश्यों के लिए आगमन पर वीजा के लिए पात्र थे।

नई यात्रा के तहत, बिना टीकाकरण वाले विदेशी पर्यटक हिमालयी राष्ट्र की यात्रा के लिए विदेशों में नेपाली मिशनों से वीजा प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन उन्हें अपने खर्च पर 10 दिनों के लिए होटलों में क्वारंटीन करना होगा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 24 Sep 2021, 12:00:01 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.