News Nation Logo
Breaking
पहले बड़े मंगल के मौके पर लखनऊ में बजरंगबली के मंदिरों पर दर्शनार्थियों की भीड़ मैरिटल रेप का मामला SC पहुंचा, याचिकाकर्ता खुशबू सैफी ने दिल्ली HC के फैसले को SC में चुनौती दी मुंबई : कार्तिक चिदंबरम और उनसे जुडे ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी दिल्ली : कुतुबमीनार के कुव्वुतुल इस्लाम मस्जिद मामले की याचिका पर साकेत कोर्ट में सुनवाई टली मथुरा जिला अदालत में एक और याचिका, शाही ईदगाह मस्जिद को सील करने की मांग दाऊद के करीबी और 1993 मुंबई धमाकों के वॉन्टेड आरोपियों को गुजरात ATS ने पकड़ा हरिद्वार हेट स्पीच मामला : जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी उर्फ़ वसिम रिज़वी को 3 महीने की अंतरिम जमानत जम्मू : म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन में गैर कानूनी लाउडस्पीकर बैन के प्रस्ताव के पारित होने पर हंगामा चिंतन शिविर के बाद हरियाणा कांग्रेस की कोर टीम आज शाम राहुल गांधी से करेगी मुलाकात वाराणसी कोर्ट में आज ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश नही होगी, तीन दिन का और समय मांगा जाएगा राजस्थान : पुलिस कांस्टेबल भर्ती में 14 मई की द्वितीय पारी की परीक्षा दोबारा ली जाएगी जम्मू कश्मीर : राजौरी इलाके के कई वन क्षेत्रों में भीषण आग, बुझाने में जुटे फायर टेंडर्स
Banner

मून ने सीआईए प्रमुख से मुलाकात की, दक्षिण कोरिया-अमेरिका गठबंधन का दिया हवाला

मून ने सीआईए प्रमुख से मुलाकात की, दक्षिण कोरिया-अमेरिका गठबंधन का दिया हवाला

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 16 Oct 2021, 12:30:01 AM
Moon meet

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

सियोल:   दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने शुक्रवार को यहां अमेरिकी केंद्रीय खुफिया एजेंसी (सीआईए) के प्रमुख विलियम बर्न्‍स के साथ बैठक की।

राष्ट्रपति कार्यालय ने बताया कि बर्न्‍स, (जो पदभार संभालने के बाद दक्षिण कोरिया की अपनी पहली यात्रा पर हैं) ने कोरियाई प्रायद्वीप में शांति और स्थिरता बनाए रखने के लिए मून के प्रयासों के प्रति गहरा सम्मान व्यक्त किया।

योनहाप न्यूज एजेंसी ने बयान के हवाले से कहा कि मून एंड बर्न्‍स ने दोनों सहयोगियों के बीच खुफिया सहयोग और कोरियाई प्रायद्वीप की मौजूदा स्थिति के बारे में भी विचारों का आदान-प्रदान किया है।

अगस्त में, लगभग 400 अफगान, (जिन्होंने अपने युद्धग्रस्त देश में सियोल सरकार की मदद की थी) को दक्षिण कोरिया ले जाया गया।

बयान के अनुसार, मून ने अफगानों को निकालने में सक्रिय रूप से मदद करने के लिए बर्न्‍स को धन्यवाद दिया।

2019 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन के बीच हनोई शिखर सम्मेलन बिना किसी समझौते के समाप्त होने के बाद से वाशिंगटन और प्योंगयांग के बीच परमाणु वार्ता रुकी हुई है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 16 Oct 2021, 12:30:01 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.