News Nation Logo
Banner

पाक में भूचालः नवाज शरीफ को फंसाने के लिए जज को 'ब्लैकमेल' किया गया, मरियम शरीफ का आरोप

वीडियो में एक न्यायाधीश यह स्वीकार करते नजर आ रहे हैं कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भ्रष्टाचार के मामले में दोषी ठहराने के लिए उन्हें 'ब्लैकमेल किया गया और उन पर दबाव डाला गया था'.

By : Nihar Saxena | Updated on: 07 Jul 2019, 04:41:19 PM
मरियम नवाज ने वीडियो क्लिप जारी कर सरकार पर मढ़ा गंभीर आरोप.

मरियम नवाज ने वीडियो क्लिप जारी कर सरकार पर मढ़ा गंभीर आरोप.

highlights

  • पाकिस्तान के अंदरूनी हालात भी इमरान खान के लिए हो रहे मुश्किल.
  • अब मरियम शरीफ ने वीडियो क्लिप जारी कर बढ़ाई सरकार की मुश्किल.
  • जज को ब्लैकमेल कर नवाज शरीफ को दोषी ठहराने का आरोप.

नई दिल्ली.:

कूटनीतिक मोर्चे पर पाकिस्तान की दिक्कतें बढ़ रही हैं, तो अंदरूनी हालात भी देश को एक किस्म की अराजकता की ओर ले जा रहे हैं. अब पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज की नेता मरियम नवाज ने एक वीडियो क्लिप जारी किया है. इसमें जवाबदेही अदालत के एक न्यायाधीश कथित तौर यह स्वीकार करते नजर आ रहे हैं कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भ्रष्टाचार के एक मामले में दोषी ठहराने के लिए उन्हें 'ब्लैकमेल किया गया और उन पर दबाव डाला गया था'.

यह भी पढ़ेंः कंगाल पाकिस्तान बाज नहीं आ रहा, अब आतंकी शिविर अफगानिस्तान सीमा पर शिफ्ट किए

शरीफ दिसंबर से बंद है कोट लखपत जेल में
इस क्लिप के साथ लाहौर में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुये मरियम ने कहा कि उनके 69 वर्षीय पिता को लेकर समूची न्यायिक प्रक्रिया को गंभीर रूप से प्रभावित किया गया. इस दौरान पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे. नवाज शरीफ अल अजीजिया स्टील मिल मामले में भ्रष्टाचार के दोषी ठहराए जाने के बाद 24 दिसंबर 2018 से कोट लखपत जेल में बंद हैं. उन्हें इस मामले में सात साल के कारावास की सजा सुनाई गई है.

यह भी पढ़ेंः तालिबान ने अफगानिस्तान में किया कार बम धमाका, एनडीएस के 8 जवान समेत 12 मरे

न्यायाधीश ने कथित तौर पर स्वीकारा ब्लैकमेल का आरोप
मरियम का दावा है कि जवाबदेही अदालत इस्लामाबाद के न्यायाधीश अरशद मलिक ने उनकी पार्टी के समर्थक नसीर भट्ट के साथ बातचीत में यह स्वीकार किया है कि पूर्व प्रधानमंत्री के खिलाफ फैसला देने के लिए उन्हें 'अज्ञात लोगों के द्वारा ब्लैकमेल और मजबूर' किया गया. देश में सत्तारूढ़ इमरान खान सरकार ने कहा है कि वीडियो 'छेड़छाड़' से तैयार किया गया है. उन्होंने इस वीडियो का फोरेंसिक ऑडिट कराने की मांग करते हुये इसे 'न्यायपालिका पर हमला' करार दिया है.

First Published : 07 Jul 2019, 04:41:19 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×