News Nation Logo

मालदीव: योग दिवस कार्यक्रम पर हमले से स्थानीय सरकार नाखुश, 6 गिरफ्तार

मालदीव में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आयोजित योग कार्यक्रम के दौरान कट्टरपंथियों ने हमला कर दिया था. कट्टरपंथियों की भीड़ ने योग कर रहे लोगों पर ये बोलते हुए हमला किया था कि ये गैर-इस्लामी काम है. जो हराम है. अब इस मामले में मालदीव की सरकार ने

News Nation Bureau | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 22 Jun 2022, 09:10:49 AM
Extremists disrupt Yoga Day event in Maldives

Extremists disrupt Yoga Day event in Maldives (Photo Credit: Twitter/ePatrakaar)

highlights

  • योग कार्यक्रम पर हमले से मालदीव सरकार नाराज
  • अब तक 6 हमलावर हो चुके हैं गिरफ्तार
  • भारत सरकार ने जताई थी नाराजगी

नई दिल्ली:  

मालदीव में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आयोजित योग कार्यक्रम के दौरान कट्टरपंथियों ने हमला कर दिया था. कट्टरपंथियों की भीड़ ने योग कर रहे लोगों पर ये बोलते हुए हमला किया था कि ये गैर-इस्लामी काम है. जो हराम है. अब इस मामले में मालदीव की सरकार ने कड़ा रुख अपनाया है. जानकारी के मुताबिक, मालदीव सरकार ने हिंसा में शामिल 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा अन्य की पहचान भी की जा रही है. बता दें कि भारत सरकार ने इस वाकये की कड़ी निंदा की थी और मालदीव सरकार से कार्रवाई की अपील की थी.

योग कार्यक्रम पर 100 से ज्यादा मुसलमानों ने बोला था हमला

बता दें कि 8वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर मालदीव की राजधानी माले में गालोल्हू नेशनल फुटबॉल पार्क में योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया. मगर यहां पर इस्लामिक कट्टरपंथियों के एक समूह ने स्टेडियम में जमकर बवाल काटा. राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने मामले की जांच के आदेश दिए. कार्यक्रम के अनुसार अचानक 100 से ज्यादा लोग स्टेडियम में झंडा लेकर दौड़ पड़े और लोगों को भगा दिया. इस दौरान कट्‌टरपंथियों ने मैदान में लगे योग से जुड़े पोस्टर-बैनर और बोर्ड को नष्ट कर दिया. इस दौरान दंगाइयों ने घटना की रिकॉर्डिंग कर रहे लोगों पर भी हमला बोला.

ये भी पढ़ें: मालदीव: इस्लामिक कट्टरपंथियों ने योग दिवस के कार्यक्रम में काटा उपद्रव, जांच के आदेश

योग को बताया था हराम

वीडियो में देखा गया कि कट्‌टरपंथियों ने अपने हाथों में कुछ तख्तियां और पोस्टर ले रखे थे. इस पर योग के विरोध में नारे भी लगाए गए. इस पर अंग्रेजी में लिखा था-'योग इज शिर्क' यानी 'इस्लाम में योग करना पाप है.'

First Published : 22 Jun 2022, 09:10:49 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.