News Nation Logo
Banner

मलेशियन प्रधानमंत्री महाथिर मोहम्मद ने इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक को लेकर कही बड़ी बात, भारत ने...

उन्होंने यह भी कहा कि दुनिया के कई देश जाकिर नाइक को अपने यहां नहीं रखना चाहते हैं.

By : Vikas Kumar | Updated on: 17 Sep 2019, 11:29:25 AM
जाकिर नाइक (फाइल फोटो)

जाकिर नाइक (फाइल फोटो)

highlights

  • मलेशिया के पीएम ने कहा, भारत ने कभी नहीं मांगा जाकिर नाईक को. 
  • जाकिर नाइक दुनिया के लिए बन गया है परेशानी का सबब. 
  • यह आदमी (जाकिर नाइक) भारत के लिए भी परेशानी का सबब बन सकता है.

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm Narendra Modi) ने इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक (Islamic Preacher Zakir Naik) को कभी भी मलेशिया (Malaysia) से वापस भारत भेजने या प्रत्यर्पण की बात नही की है. यह दावा खुद मेलेशियन प्राइम मिनिस्टर महाथिर मोहम्मद (Mahathir Bin Mohamad) ने किया है. उन्होंने यह भी कहा कि दुनिया के कई देश जाकिर नाइक को अपने यहां नहीं रखना चाहते हैं. मैं पीएम मोदी से मिला था लेकिन उन्होंने जाकिर नाइक को वापस भेजने के लिए कुछ नहीं कहा. यह आदमी (जाकिर नाइक) भारत के लिए भी परेशानी का सबब बन सकता है.

मलेशियाई प्रधानमंत्री महाथिर मोहम्मद ने कहा कि जाकिर नाइक इस देश के नागरिक नहीं हैं. उन्हें पिछली सरकार ने यहां रहने के लिए स्थायी दर्जा दिया था. स्थायी निवासी को देश की व्यवस्था या राजनीति पर टिप्पणी करने का अधिकार नहीं है. उन्होंने इसका उल्लंघन किया है, इसलिए अब उन्हें कुछ बोलने की अनुमति नहीं है.

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने पाकिस्तान जाकर नवाज शरीफ को दी थी जन्मदिन की बधाई, क्या इमरान खान में जिगरा है?

हालांकि पूर्व में ऐसी खबर आई थी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस दौरे पर अपने मलेशियाई समकक्ष महाथिर मोहम्मद के साथ जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण के मुद्दे को उठाया था. नाइक एक भगोड़ा है और उसने मलेशिया में शरण ली है.

नरेंद्र मोदी रूस के व्लादिवोस्तोक में आयोजित ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम में हिस्सा लेने पहुंचे थे. यहीं पर उन्होंने कार्यक्रम से इतर मोहम्मद के साथ अपनी द्विपक्षीय बैठक के दौरान यह मामला उठाया था. विदेश सचिव विजय गोखले ने इस बैठक के संबंध में मीडियाकर्मियों को जानकारी दी.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान: हिंदू मंदिर में तोड़फोड़, 200 से भी ज्यादा लोगों के खिलाफ दंगा भड़काने के लिए FIR दर्ज

नाइक के प्रत्यर्पण के संबंध में एक सवाल का जवाब देते हुए गोखले ने कहा था कि यह तय किया गया कि दोनों देशों के अधिकारी संपर्क में रहेंगे. गोखले ने हालांकि इस संबंध में विस्तार से नहीं बताया.

First Published : 17 Sep 2019, 11:29:25 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो