News Nation Logo

France में दूसरी बार पद संभालने वाले तीसरे राष्ट्रपति बने Emmanuel Macron

राष्ट्रपति चुनाव में मरीन ले पेन ( Marine Le Pen ) को अब तक इमैनुएल मैक्रों ( Emmanuel Macron ) से लगातार दो बार हार मिली है. हालांकि पांच साल पहले के मुकाबले उनके वोटों की संख्या बढ़ी है.

News Nation Bureau | Edited By : Keshav Kumar | Updated on: 25 Apr 2022, 08:09:08 AM
emmanuel macron

ले पेन के मुकाबले मैक्रों की जीत तय मानी जा रही थी (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने एलिसी पैलेस पर अपना कब्जा बरकरार रखा
  • राष्ट्रपति चुनाव में मरीन ले पेन को मैक्रों से लगातार दो बार हार मिली है
  • इमैनुएल मैक्रों फ्रांस में दूसरी बार पद संभालने वाले तीसरे राष्ट्रपति होंगे

New Delhi:  

फ्रांस के राष्ट्रपति चुनाव 2022 ( France President Election 2022 Results ) में राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ( Emmanuel Macron )ने आधिकारिक निवास एलिसी पैलेस (Elysee Palace) पर अपना कब्जा बरकरार रखा है. रविवार को मतदान समाप्त होने के कुछ ही मिनटों के भीतर परिणाम की आधिकारिक घोषणा हुई. इसमें राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को विजेता घोषित कर दिया गया. राजधानी पेरिस में हजारों लोग मशहूर एफिल टॉवर के पास इकट्ठा होकर एक विशाल टेलीविजन स्क्रीन पर चुनावों के बारे में लाइव अपडेट देख रहे थे.

चुनाव परिणाम के बाद मैक्रों के समर्थकों ने जमकर जश्न मनाया. वहीं मरीन ले पेन समर्थकों में निराशा छा गई और उन्होंने हूटिंग शुरू कर दी. राष्ट्रपति चुनाव में हिंसा की भी खबर सामने आई. राष्ट्रपति चुनाव में मरीन ले पेन ( Marine Le Pen ) को अब मैक्रों से लगातार दो बार हार मिली है. हालांकि पांच साल पहले के मुकाबले उनके वोटों की संख्या बढ़ी है. वोटों के आरंभिक अनुमानों में मैक्रों को 58.8 फीसदी वोट मिले. उनकी प्रतिद्वंद्वी मरीन ले पेन केवल 41.2 प्रतिशत वोट हासिल कर सकीं.

दूसरी बार पद संभालने वाले तीसरे राष्ट्रपति

फ्रांस में साल 2002 यानी 20 साल पहले केंद्रीय रिपब्लिकन पार्टी के जैक्स शिराक के फिर से चुने जाने के बाद यह पहली बार है कि एक फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने आधिकारिक निवास एलिसी पैलेस पर अपना कब्जा बरकरार रखा. मैक्रों देश में दूसरी बार पद संभालने वाले तीसरे राष्ट्रपति होंगे. उनसे पहले सिर्फ दो फ्रांसीसी राष्ट्रपति लगातार दूसरा कार्यकाल हासिल कर पाए थे. मतदान में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (EVM) के इस्तेमाल के बिना हुआ. फ्रांस में अविश्वसनीयता के कारण ईवीएम प्रतिबंधित हैं. 

एफिल टॉवर ग्राउंड में परिवार के साथ

इतिहास रचने के बाद इमैनुएल मैक्रों अपनी पत्नी ब्रिगिट और अपने बच्चों के साथ एफिल टॉवर के पास चैंप डे मार्स पर सजे मंच पर पहुंचे.  राष्ट्रगान गाने के बाद मैक्रों ने पांच साल बाद फिर से उसी जगह लोगों को संबोधित किया. दूसरी बार फ्रांस का राष्ट्रपति चुने जाने के बाद इमैनुएल मैक्रों ने अपने समर्थकों का धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा, 'धन्यवाद प्यारे दोस्तों, सबसे पहले धन्यवाद. आप सभी ने अगले पांच वर्षों के लिए मुझ पर अपना भरोसा जताया. मुझे पता है कि मैं आपका ऋणी हूं.'

मैक्रों ने की निष्पक्ष समाज की वकालत

एफिल टॉवर ग्राउंड में मैक्रों ने कहा कि मैं एक निष्पक्ष समाज चाहता हूं. जहां महिलाओं और पुरुषों के बीच समानता हो. आने वाले साल निश्चित रूप से कठिन होंगे, लेकिन वे ऐतिहासिक होंगे. हमें नई पीढ़ियों के लिए एक साथ मिलकर काम करना होगा. इमैनुएल मैक्रों की पत्नी ब्रिगिट मैक्रों ने इस ऐतिहासिक मौके पर कहा कि मुझे अपने पति पर पूरा भरोसा है. उनके पास दुनिया के सबसे खूबसूरत देश फ्रांस के लिए एक विजन है. वह इस विजन पर शानदार काम करेंगे.

ये भी पढ़ें - गुतारेस के पहले रूस जाने से नाराज हैं जेलेंस्की, पुतिन से दिया बातचीत का संकेत

चुनाव में छाए रहे ये बड़े अंतरराष्ट्रीय मुद्दे

राष्ट्रपति पद की दौड़ में हार स्वीकार करने के साथ ही दक्षिणपंथी नेता मरीन ले पेन ने मौजूदा राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव में उनका अभूतपूर्व प्रदर्शन अपने आप में एक शानदार जीत को दर्शाता है. ले पेन के मुकाबले मैक्रों की जीत तय मानी जा रही थी. फ्रांस के राष्ट्रपति चुनाव में स्थानीय मुद्दों के साथ रूस-यूक्रेन युद्ध, मुस्लिम प्रवासियों को शरण देने, हिजाब, बढ़ती महंगाई और जलवायु परिवर्तन जैसे विषय भी हावी रहे. ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने सबसे पहले मैक्रों को जीत की शुभकामनाएं दी.

First Published : 25 Apr 2022, 08:09:08 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.