News Nation Logo
Banner

कंगाल पाकिस्तान को रास नहीं आ रही कश्मीर में शांति, अब चलने वाला है ये घटिया चाल

घाटी से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद बैखलाया पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मंच पर अलग-थलग पड़ चुका है, यही वजह है कि वो अब संयुक्त राष्ट्र महसभा की बैठक से पहले दुनियाभर के देशों का ध्यान इस ओर लाना चाहता है

By : Aditi Sharma | Updated on: 06 Sep 2019, 09:00:03 AM

नई दिल्ली:

जम्मू कश्मीर में सीमा पर लगातार सीजफायर का उल्लंघ कर रहे पाकिस्तान को शांति रास नहीं आ रही है. घाटी से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद बैखलाया पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मंच पर अलग-थलग पड़ चुका है, यही वजह है कि वो अब संयुक्त राष्ट्र महसभा की बैठक से पहले दुनियाभर के देशों का ध्यान इस ओर लाना चाहता है. इसके मद्देनजर अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर हिंसा बढ़ाने की नापाक कोशिश में लगा हुआ है

मीडिया रिपोर्ट्स में खूफिया इनपुट के हवाले से बताया जा रहा है कि सीमापार से गोलीबारी बढ़ने की आशंका है. दरअसल पाकिस्तान किसी भी तरह भारतीय सेना का ध्यान जम्मू-कश्मीर से हटाना चाहता है ताकि आतंकी घाटी में दाखिल हो सकें. इसके लिए उसने सीमा पर गोलीबारी बढ़ाऩे की योजना बनाई है. इस खूफिया इनपुट के बाद जवानों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है.

यह भी पढ़ें: तिहाड़ की जिस जेल में बेटे कार्ति चिदंबरम ने बिताए 23 दिन, अब उसी जेल में रहेंगे पी चिदंबरम

बता दें, ब संयुक्त राष्ट्र महसभा की बैठक 17 सितंबर से शुरू हो रही है. वहीं पाकिस्तान पूरी दुनिया को ये बताना चाहता है कि कैसे अनुच्छेद 370 के हटने से कश्मीर की स्थिति खराब हो गई है. यही वजह है कि वो तरह-तरह के हथकंडे अपना रहा है.

वहीं बताया ये भी जा रहा है कि अब कई बड़े संगठन आतंकी घाटी की शांतिभरे के माहौल को खराब करने का प्रयास कर रहे हैं. दरअसल जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में व्याप्त शांति जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammad) और लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) जैसे संगठनों को रास नहीं आ रही है. लश्कर (Lashkar) ने एक बार फिर घाटी में दहशत और हिंसा फैलाने के मकसद से पोस्टर्स लगाए हैं. इन पोस्टर्स में संदेश दिया गया है कि जो भी कश्मीरी मोदी सरकार (Modi Government) का समर्थन कर रहे हैं वो सभी गद्दार हैं. लश्कर ने ऐसा करने वालों के लिए चेतावनी भी जारी की है. आतंकी संगठन Lashkar-e-Taiba ने पोस्टर्स में लिखा है कि लोग अपने-अपने घरों से बाहर न निकलें, न ही सड़क पर गाड़ियां दिखाई दें. ऐसा कहा गया है कि ऐसा करने से मीडिया में गलत दिखाया जा रहा है कि घाटी में सब सामान्य है. लश्कर ने चेतावनी दी है कि जो भी ऐसा करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी. इस पोस्टर के जरिए कश्मीरी युवकों को भारत के खिलाफ भड़काने की भी कोशिश की गई है.

यह भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर में आतंकी संगठनों ने लगाए धमकी भरे Posters, PM मोदी का साथ देने वालों को बताया गद्दार

पोस्टर में लश्कर पाकिस्तान के कदमों का समर्थन कर रहा है. इस पोस्टर में कहा गया है कि कश्मीर मामला संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (United Nations Security Council) में गया है और वहां भी इसे विवादित ही बताया गया है. बता दें कि कुछ दिनों पहले भी आतंकियों ने घाटी में शांति को भंग करने के उद्देश्य से दुकानदारों और वाहन परिचालकों को धमकी दी थी कि वे अपनी दुकानों को बंद रखें और गाड़ियां न चलाएं बल्कि अपने घरों में रहे अन्यथा उन्हें इसका परिणाम भुगतना होगा.

First Published : 06 Sep 2019, 08:36:43 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×