logo-image
लोकसभा चुनाव

Israel Hamas War: हमास की इस डील पर माना इजरायल, 4 दिनों के लिए रोक दी जंग 

Israel Hamas War: डील के तहत सुरक्षा संबंधी अपराधों में बंद करीब 150 फिलिस्तीनी (Palestinian) महिलाओं और नाबालिगों को इजरायल भी रिहा करेगा.

Updated on: 22 Nov 2023, 09:55 AM

highlights

  • हमले के बाद यह पहला युद्ध विराम होने वाला है
  • 96 घंटों के लिए लड़ाई रोकने के बदले 50 बंधकों को रिहा किया जाएगा
  • गाजा में रखे बाकी 30 बंधकों की रिहाई भी हो सकती है.

तेल अवीव:

इजरायल की सरकार ने हमास (Hamas) से एक डील की है. अगर सबकुछ ठीक रहा तो चार दिनों के लिए इस युद्ध पर विराम लग सकता है. हमास बंधक बनाई गईं 50 महिलाओं और बच्चों को छोड़ने के लिए तैयार हो गया है. इसके बदले इजरायल ने 150 फिलिस्तीनी महिला और नाबालिग कैदियों की जेल से रिहाई के साथ 4 दिनों के संघर्ष विराम को मान लिया है. इजरायल (Israel) के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) की ओर से गाजा में बंधकों (Hostages) के रूप में 50 महिलाओं और बच्चों को मुक्त करने के एवज में फिलिस्तीनी हमास आतंकवादियों के साथ डील का समर्थन किया गया. इसके साथ सुरक्षा संबंधी अपराधों में बंद करीब 150 फिलिस्तीनी (Palestinian) महिलाओं और नाबालिगों को इजरायल भी रिहा करेगा. 

ये भी पढ़ें: Weather Update: दिल्ली-NCR में फिर मौसम लेगा करवट, नए पश्चिमी विक्षोभ से बने बारिश के आसार

इस समझौते के तहत 96 घंटों के लिए लड़ाई रोकने के बदले 50 बंधकों को रिहा किया जाएगा.  हमास ने करीब 40 बच्चों और 13 माताओं को बंधक बनाया है. इस सौदे के तहत 30 बच्चों, आठ माताओं और 12 अन्य महिलाओं की रिहाई होगी. ऐसा कहा जा रहा है कि 50 बंधकों को छोटे-छोटे समूहों में रिहा किया जाएगा. इस जंग को अगर चार दिनों के लिए रोक दिया जाता है तो गाजा में रखे बाकी 30 बंधकों की रिहाई भी हो सकती है. सभी बंधकों के पास इजरायली पहचान पत्र भी होगा. 

कतर के अधिकारी इजरायल और हमास के बीच समझौते पर मध्यस्थता कर रहे हैं. पीएम नेतन्याहू का कहना है कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने समझौता कराने में सहायता की. इसमें कुछ रियायतें भी हैं. इजरायल पर बीते डेढ़ माह से गाजा पर जारी हमले के बाद यह पहला युद्ध विराम होने वाला है. इस युद्ध विराम की वजह से गाजा में मानवीय सहायता भी पहुंचेगी. हालांकि अभी यह पूरी तरह से साफ नहीं हो सका है कि युद्ध विराम कब तक प्रभावी होगी. ऐसी उम्मीद है कि बंधकों को गुरुवार से मुक्ति मिल जाएगी. इजरायली सरकार का कहना है कि वह रिहा किए हर 10 बंधकों पर शांति का एक दिन बढ़ा देगी. 

आपको बता दें कि 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमला करने के बाद हमास ने करीब 240 लोगों को कैदा किया गया था. यह सभी एक संगीत कार्यक्रम में शामिल हुए थे. यहां पर हमास ने हमला कर गई लोगों को मौत के घाट उतार दिया. वहीं कई को बंधक बना लिया. इजरायल की सरकार का कहना है कि ज्यादातर बंधकों के पास दोहरी नागरिकता थी.