News Nation Logo
Banner

'कुत्ते की तरह' हुई बगदादी की मौत, IS सरगना ने ऐसा अंत कभी सोचा भी नहीं होगा

प्रेसिडेंट ट्रंप ने बकायदा प्रेस कांफ्रेस करके बगदादी की मौत का ऐलान किया और कहा कि बगदादी को पकड़ना या मारना मेरे प्रशासन की राष्ट्रीय सुरक्षा की सर्वोच्च प्राथमिकता रही. ट्रंप ने आगे कहा कि अमेरिकी सेना से डर कर वह एक डेड-एंड सुरंग में गया और मारा गया.

By : Vikas Kumar | Updated on: 28 Oct 2019, 11:22:12 AM
'कुत्ते की तरह' हुई बगदादी की मौत, IS सरगना ने सोचा भी नहीं होगा

'कुत्ते की तरह' हुई बगदादी की मौत, IS सरगना ने सोचा भी नहीं होगा (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • अमेरिकी सेना ने कुत्ते की तरह मारा आईएस कमांडर बगदादी को. 
  • बगदादी को मारने के लिए रात में किया गया खुफीया ऑपरेशन. 
  • प्रेसिडेंट ट्रंप ने बकायदा प्रेस कांफ्रेस करके बगदादी की मौत का ऐलान किया.

नई दिल्ली:

Baghdadi were killed like a dog by American soldiers: दुनिया को अपने आतंक की अंगुलियों पर नचाने वाले इस्लामिक स्टेट (Islamic State) का सरगना अबू बक्र अल बगदादी (Abu Bakr al-Baghdadi) ने कभी ये सोचा नहीं होगा कि अमेरिकी उसे 'कुत्ते की तरह' मारेंगे. शनिवार को अमेरिकी सेना (American Soldiers) की कार्यवाही में उत्तर-पश्चिमी सीरिया में आतंक का बेताज बादशाह आखिरकार मारा गया जिसकी जानकारी खुद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (President Donald Trump) ने दी. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि "क्रूर" संगठन इस्लामिक स्टेट का सरगना और दुनिया का नंबर एक आतंकवादी बगदादी " एक कुत्ते और कायर की तरह" मारा गया.

प्रेसिडेंट ट्रंप ने बकायदा प्रेस कांफ्रेस करके बगदादी की मौत का ऐलान किया और कहा कि बगदादी को पकड़ना या मारना मेरे प्रशासन की राष्ट्रीय सुरक्षा की सर्वोच्च प्राथमिकता रही. ट्रंप ने आगे कहा कि अमेरिकी सेना से डर कर वह एक डेड-एंड सुरंग में गया और मारा गया. वह अपने आखिरी समय में रोता-चिलाता, चीख पुकार करता रहा. जिस बदमाश ने दूसरों को डराने-धमकाने की इतनी कोशिश की, उसने अपने अंतिम क्षणों को पूरी तरह से भय और अमेरिकी बलों के खौफ में बिताया.

यह भी पढ़ें: एक कसक है कि पाक ने कश्मीर के एक हिस्से को कब्जा रखा है, जवानों के साथ दिवाली मनाते हुए पीएम मोदी बोले

ट्रंप ने कहा कि अमेरिका के विशेष अभियान बलों ने रात में कार्रवाई करते हुए साहसिक और जोखिम भरे अभियान को शानदार ढंग से अंजाम दिया. उन्होंने कहा, "अमेरिका ने दुनिया के नंबर 1 आतंकी सरगना को मार गिराया. अबू बक्र अल बगदादी मर चुका है.

इस मिशन की सबसे बड़ी कामयाबी ये थी कि इसमें कोई भी अमेरिकी सैनिक हताहत नहीं हुआ. बता दें कि आईएसआईएस का संस्थापक और नेता था जो दुनिया का सबसे क्रूर और हिंसक आतंकी संगठन है. अमेरिका कई वर्षों से बगदादी की तलाश कर रहा था. अमेरिकी सेना के इस हमले में बगदादी के कई गुर्गे भी मारे गए

ट्रंप ने कहा, "वह एक तरफ से बंद सुरंग में भागते हुए गया. इस दौरान वह पूरे समय रोता और चिल्लाता रहा. जिसने दूसरों के मन में डर पैदा किया, उसके जीवन के अंतिम क्षण अमेरिकी सेना के खौफ में बीते." उन्होंने कहा कि अभियान में एक भी अमेरिकी सैनिक हताहत नहीं हुआ, लेकिन बगदादी के कई समर्थक मारे गए और कई को पकड़ लिया गया. उन्होंने कहा कि उसके पास से बेहद संवेदनशील सामग्री और जानकारी मिली है.

यह भी पढ़ें: दीपावली के पटाखों ने दिल्ली, नोएडा की हवा में घोला जहर, Air Quality Index 'खतरनाक' स्तर पर

ट्रंप ने कहा कि उन्होंने उपराष्ट्रपति माइक पेंस और शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ व्हाइट हाउस से अभियान का सीधा प्रसारण देखा. उन्होंने कहा कि अमेरिकी कमांडों ने परिसर की दीवार को धमाका करके उड़ा दिया. विस्फोट ने बगदादी के शरीर को क्षत-विक्षत कर दिया, लेकिन डीएनए जांच में उसकी पहचान की पुष्टि हो गई.
राष्ट्रपति ट्रंप ने अभियान में सहयोग देने के लिये रूस, तुर्की, सीरिया, और इराक को धन्यवाद दिया. उन्होंने अभियान में मददगार जानकारी उपलब्ध कराने के लिये सीरियाई कुर्दों को भी धन्यवाद कहा. उन्होंने कहा, "कुर्दों ने सैन्य भूमिका नहीं निभाई लेकिन उन्होंने हमें जानकारी उपलब्ध कराई." उन्होंने कहा कि हमने रूस से बात करके उसे बताया कि हम वहां आ रहे हैं...उन्होंने बहुत अच्छी प्रतिक्रिया दी. हमने रूस को यह नहीं बताया कि हमारा अभियान क्या है.

यह भी पढ़ें: VIDEO: अमेरिका ने IS सरगना बगदादी को उतारा मौत के घाट, डोनाल्ड ट्रंप ने किया ऐलान

ट्रंप ने बताया कि यह एक खुफिया अभियान था. वहां घुसते ही हल्की गोलीबारी हुई, जिसका तुरंत जवाब दिया गया. अभियान की प्रक्रिया शाम पांच बजे (स्थानीय समयानुसार) शुरू की गई. उन्होंने कहा कि अभियान से पहले उस परिसर से 11 बच्चों समेत कई लोगों को बचाया गया. डीएनए जांच में साबित हो गया है कि वह बगदादी था. हमले में उसकी दो पत्नियां भी मारी गईं. ट्रंप ने कहा कि बगदादी पर पिछले कुछ सप्ताह से अमेरिका लगातार निगरानी रखे हुए थे.

यह भी पढ़ें: मनोहर लाल खट्टर ने सीएम पद की ली शपथ, राज्यपाल ने दिलाई पद और गोपनीयता की शपथ

इस बीच, इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने भी बगदादी के मारे जाने की अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की घोषणा का रविवार को स्वागत करते हुए इसे एक "महत्वपूर्ण मील का पत्थर" करार दिया. वहीं ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इसे एक महत्वपूर्ण क्षण करार देते हुए कहा कि आईएस के खिलाफ जंग अभी खत्म नहीं हुई है.

First Published : 28 Oct 2019, 08:30:22 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो