News Nation Logo
Banner

ईरान ने फिर किया हमला, इराक में जिस एयरबेस का अमेरिका करता है इस्‍तेमाल, उसे बनाया निशाना

इससे पहले भी ईरान (Iran) ने बगदाद एयरपोर्ट (Baghdad Airport) पर अमेरिकी एयर स्ट्राइक (American Air Strike) में मारे गए अपने सैन्य जनरल कासिम सुलेमानी (Qassim Suleimani) की मौत का बदला लेते हुए इराक में अमेरिकी एयरबेस पर हमला किया था.

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 15 Jan 2020, 07:35:13 AM
इराक एयरबेस पर हमला

इराक एयरबेस पर हमला (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

इराक के एयरबेस पर एक बार फिर हमला किया गया है. इराकी पुलिस को उसके एयरबेस पर रॉकेट दागे जाने की सूचना मिली है. बताया जा रहा है कि इस एयरबेस का इस्तेमाल अमेरिकी सेना करती है. ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि इस हमले का मकसद अमेरिकी सेना को निशाना बनाना था. हालांकि इससे फिलहाल जान माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है.

बता दें, इससे पहले भी ईरान (Iran) ने बगदाद एयरपोर्ट (Baghdad Airport) पर अमेरिकी एयर स्ट्राइक (American Air Strike) में मारे गए अपने सैन्य जनरल कासिम सुलेमानी (Qassim Suleimani) की मौत का बदला लेते हुए इराक में अमेरिकी एयरबेस पर हमला किया था. समाचार एजेंसी एएफपी न्यूज एजेंसी ने सैन्य सूत्रों के हवाले से बताया कि ईरान ने इराक में अमेरिकी एयरबेस पर चार रॉकेट दागे थे.

यह भी पढ़ें: हाफिज सईद की मनमानी, टेरर फंडिंग मामले में नहीं स्वीकार किया अपराध; जानें अब क्या होगा

राजधानी बगदाद से उत्तर में स्थित अमेरिकी सैनिकों की तैनाती वाले इराकी एयरबेस पर रॉकेटों से हुए हमले में चार स्थानीय सैनिक घायल हो गए थे. इराक की सेना ने रविवार को यह जानकारी दी. सेना की ओर से जारी बयान के अनुसार, अल-बलाद एयरबेस पर कात्युसा श्रेणी के आठ रॉकेट गिरे. हमले में दो इराकी अधिकारी और दो पायलट घायल हुए हैं.

अल-बलाद इराक की एफ-16 के लिए मुख्य एयरबेस है. इन विमानों को इराक ने अपनी हवाई क्षमता बढ़ाने के लिए अमेरिका से खरीदा है. सैन्य सूत्रों ने बताया कि इस एयरबेस पर अमेरिकी वायुसेना की छोटी टुकड़ी और अमेरिकी ठेकेदार रहते थे, लेकिन पिछले दो सप्ताह में अमेरिकी-ईरान के बीच बढ़ते तनाव के मद्देनजर ज्यादा अमेरिकी यहां से पहले ही जा चुके हैं.

यह भी पढ़ें: अमेरिका से तनाव के बीच ईरान के विदेश मंत्री भारत पहुंचे, रायसीना डायलॉग कार्यक्रम करेंगे शिरकत

इससे पहले भी ईरान ने अपने सैन्य कमांडर कासिम सुलेमानी की मौत का बदला लेने के लिए बुधवार को इराक स्थित अमेरिकी सैन्य बलों के ठिकानों पर हमले किए. ईरान की रिवोल्यूशनरी गार्ड कोर ने एक बयान में कहा कि ‘ऑपरेशन मार्टिर सुलेमानी’ अमेरिकी हमलावरों के आपराधिक एवं आतंकी अभियान के जवाब और सुलेमानी की कायराना हत्या एवं दर्दनाक शहादत का बदला लेने के लिए था. इसमें कहा गया, ‘अमेरिकी आतंकी सेना के हमलावर हवाई प्रतिष्ठान पर जमीन से जमीन पर मार करने वाली दर्जनों मिसाइलें दागी गईं. एन अल असद, और यह ठिकाना नष्ट कर दिया गया.’

AFP के मुताबिक, ईरान ने बुधवार को बैलिस्टिक मिसाइलों से अमेरिकी एयरबेस पर हमला किया. ईरान ने अमेरिका से बदला लेने का पहले ही खुलासा कर दिया था. अमेरिकी एयरबेस पर हमले के बाद इराक ने कहा कि ईरान ने हमें पहले ही इस हमले की सूचना दे दी थी. इराक का कहना है कि ईरान ने अमेरिकी बलों पर 12 बैलिस्टिक मिसाइलों से अटैक की सूचना दे दी थी. बताया जा रहा है कि ईरान के इस हमले में 80 लोगों की मौत हो गई.

First Published : 15 Jan 2020, 07:26:07 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Iraq Iraq Airbase
×