News Nation Logo
Banner

पाक को सता रहा डर, भारत कर सकता है एक और सर्जिकल स्ट्राइक

पाकिस्तान को एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक का डर सताने लगा है. पाकिस्तानी मीडिया का कहना है भारत किसान आंदोलन को दबाने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 10 Dec 2020, 09:38:13 AM
Imran Khan

पाक को सता रहा डर, भारत कर सकता है एक और सर्जिकल स्ट्राइक (Photo Credit: फाइल फोटो)

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान को एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक का डर सताने लगा है. पाकिस्तानी मीडिया का कहना है भारत किसान आंदोलन को दबाने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है. पाकिस्तान के प्रमुख अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने लिखा है कि खुफिया एजेंसियों से संकेत मिले हैं कि दिल्ली में जारी किसान प्रदर्शनों से ध्यान हटाने के लिए भारत फिर कोई दुस्साहस कर सकता है. अखबार ने सेना के सूत्रों के हवाले से लिखा है कि सर्जिकल स्ट्राइक की आशंका से पाकिस्तान ने भारत से लगी सीमा पर सैनिकों को हाई अलर्ट कर दिया है.
 
एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने लिखा है, "भारत की हिंदुत्ववादी नरेंद्र मोदी सरकार देश में जारी विरोध-प्रदर्शनों को कमजोर करने के लिए कुछ भी कर सकती है. भारत ये भी नहीं चाहता है कि सिख किसानों के नेतृत्व में हो रहे आंदोलन से खालिस्तानी आंदोलन को हवा मिले." अखबार का यह भी दावा है कि कई विश्वसनीय सूत्रों से पता चला है कि एलओसी (लाइन ऑफ कंट्रोल) और भारत-पाकिस्तान वर्किंग बाउंड्री पर पाकिस्तानी सैनिकों को हाई अलर्ट पर कर दिया गया है ताकि भारत के किसी भी दुस्साहस का जवाब दिया जा सके. पाकिस्तान के अखबार जियो न्यूज ने भी ये खबर छापी है.

हाई अलर्ट पर पाकिस्तान की सेना
इस खबर के बाद से ही पाकिस्तान की सेना हाई अलर्ट पर है. पाकिस्तान ने भारत के किसी फ्लैग ऑपरेशन या सर्जिकल स्ट्राइक की आशंका से सेना को अलर्ट पर रखा है. गौरतलब है कि पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमले के जवाब में फरवरी 2019 में भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकियों के ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक की थी. हालांकि, एक तरफ तो पाकिस्तान सर्जिकल स्ट्राइक की बात से इनकार करता रहा है लेकिन दूसरी तरफ उसे सर्जिकल स्ट्राइक का डर भी सताता रहता है.

First Published : 10 Dec 2020, 09:38:13 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.