News Nation Logo

इजराइल-फिलिस्तीन पर भारत ने चुप्पी तोड़ी, UN में की हिंसा की निंदा

भारत इजराइल और फलस्तीन के बीच वार्ता बहाल करने के लिए अनुकूल वातावरण बनाने के हरसंभव प्रयास का समर्थन करता है.इजराइल-फिलिस्तीन (Israle-Palestine) को बीच जारी हिंसा पर भारत ने रविवार को अपनी चुप्पी तोड़ी. भारत ने हिंसा की निंदा करते हुए संयुक्त राष्ट्

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 17 May 2021, 07:07:49 AM
India UN

भारत ने कई दिनों बाद इजराइल-फिलिस्तीन मसले पर तोड़ी चुप्पी. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • इजराइल-फिलिस्तीन संघर्ष पर भारत ने चुप्पी तोड़ी
  • दोनों देशों से संयम बरतने की अपील की
  • संयुक्त राष्ट्र में कूटनीतिक संयम का परिचय

संयुक्त राष्ट्र:

इजराइल-फिलिस्तीन (Israel-Palestine) को बीच जारी हिंसा पर भारत ने रविवार को अपनी चुप्पी तोड़ी. भारत ने हिंसा की निंदा करते हुए संयुक्त राष्ट्र (United Nations) सुरक्षा परिषद की मीटिंग में कहा कि वह दोनों पक्षों में यथास्थिति में एकतरफा बदलाव न करने की अपील करता है. संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि तिरूमूर्ति ने कहा कि गाजा पट्टी में होने वाले रॉकेट हमलों की भारत कड़ी निंदा करता है. साथ ही दोनों देशों से तत्काल तनाव खत्म करने की अपील करता है. परिषद की अपनी मीटिंग में भारत (India) का पक्ष रखते हुए टीएस तिरुमूर्ति ने कहा, 'हम दोनों पक्षों से अत्यधिक संयम दिखाने, तनाव बढ़ाने वाली कार्रवाइयों से बचने और पूर्वी यरुशलम और उसके आसपास में मौजूदा यथास्थिति को एकतरफा रूप से बदलने के प्रयासों से परहेज करने का आग्रह करते हैं.' 

हिंसा नियंत्रण से बाहर न हो
मीडिया सूत्रों के मुताबिक, तिरुमूर्ति ने कहा कि भारत फिलिस्तीन के जायज मांगों का समर्थन करता है और टू नेशन- थ्योरी के तहत मामले के हल के लिए वचनबद्ध है. तिरुमूर्ति ने कहा कि पिछले हफ्ते पूर्वी यरुशलम में शुरू हुई हिंसा के नियंत्रण से बाहर जाने का खतरा उत्पन्न हो गया है. पिछले कुछ दिनों में हुए घटनाक्रम से सुरक्षा परिस्थितियों के हालात तेजी से बिगड़े हैं. तिरुमूर्ति ने कहा कि भारत इजराइल और फलस्तीन के बीच वार्ता बहाल करने के लिए अनुकूल वातावरण बनाने के हरसंभव प्रयास का समर्थन करता है.

यह भी पढ़ेंः चक्रवात 'तौकते' ने महाराष्ट्र तट पर बरपाया कहर, किसी के हताहत होने की खबर नहीं

इजराइल में भारत के नागरिक की भी गई जान
तिरुमूर्ति ने आगे कहा, 'इस रॉकेट हमले में भारत ने इज़राइल में रहने वाले अपने एक नागरिक को भी खो दिया है. वह अशकलोन में परिचारिका के तौर पर काम करने वाली एक महिला थीं. हम उनके समेत अन्य सभी नागरिकों के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हैं, जिन्होंने हिंसा, उकसावे और विध्वंस के मौजूदा घटनाचक्र में अपनी जान गंवाई है. गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने रविवार को मध्य-पूर्व में जारी हालात पर खुली बैठक की. इस दौरान संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने इजराइल और गाजा के बीच तनाव को 'बेहद गंभीर' करार दिया.

इजराइल 'हथियारबंद चोर'
तनाव के बीच संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में फिलिस्तीन के विदेश मंत्री डॉ. रियाद माल्की ने इजरायल को 'हथियारबंद चोर' कहा और आरोप लगाया कि वह उनके घर में घुस आया है. रियाद ने कहा कि यरूशलम बिकाऊ नहीं है. उन्होंने कहा कि इजरायल एक औपनिवेशिक ताकत है जो कब्जा कर रहा है. वहीं, इजरायल ने भी बैठक के दौरान भावुकता दिखाई. संयुक्त राष्ट्र के लिए इजरायल के दूत जिलाद एर्दान ने हमास के हवाई हमले में मारी गई इजरायली नागरिक की तस्वीर दिखाई.

यह भी पढ़ेंः कोरोना से जंग में मिलेगा एक और हथियार, 2-DG की 10,000 डोज तैयार

इजराइल का 'भावुक' जवाब
उन्होंने हमास को कठघरे में खड़ा करते हुए सवाल किया, 'आप क्या करेंगे जब आपके ऊपर सैकड़ों रॉकेट दागे जाएं?' उन्होंने कहा कि आतंकवाद के लिए कोई सफाई नहीं दी जा सकती है. जिलाद ने कहा कि ये हालात हमास के पैदा किए हुए हैं. उन्होंने अल-अक्सा मस्जिद में पथराव करने वाले फिलिस्तीनी लोगों की तस्वीरें भी परिषद की बैठक में दिखाईं. जिलाद ने कहा, 'हमास नागरिकों को निशाना बनाता है, इजरायल आतंकियों को.'

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 May 2021, 07:04:39 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.