News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

सेना के सामने बेबस हुए इमरान, बाजवा के चहेते ही बनेंगे ISI प्रमुख

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अहमद अंजुम को इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (ISI) के नए महानिदेशक के रूप में नियुक्त करने को मंजूरी दे दी. माना जा रहा है कि अंजुम सेना के पसंदीदा चेहरा है.

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 27 Oct 2021, 07:20:35 AM
nadeem anjum isi

nadeem anjum isi (Photo Credit: Twitter)

highlights

  • 20 नवंबर से आईएसआई प्रमुख की कमान संभालेंगे
  • सेना के पंसदीदा चेहरा हैं लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अहमद अंजुम
  • पिछले तीन सप्ताह से नियुक्ति को लेकर चल रही थी रस्साकस्सी

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अहमद अंजुम को इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (ISI) के नए महानिदेशक के रूप में नियुक्त करने को मंजूरी दे दी. माना जा रहा है कि अंजुम सेना के पसंदीदा चेहरा है. पिछले तीन सप्ताह उनकी नियुक्ति को लेकर कई सवाल उठाए जा रहे थे, लेकिन आखिरकार अंजुम के नाम पर मुहर लग गई. लेफ्टिनेंट जनरल अंजुम 20 नवंबर से आईएसआई प्रमुख की कमान संभालेंगे. मौजूदा आईएसआई प्रमुख फैज हमीद 19 नवंबर तक अपने पद पर बने रहेंगे. पाकिस्तान के प्रधान मंत्री कार्यालय से औपचारिक घोषणा मंगलवार शाम को जारी की गई. हालांकि इससे पहले अक्टूबर में पाकिस्तान सेना के मीडिया विंग, इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस ने लेफ्टिनेंट जनरल अंजुम की पाकिस्तान की आईएसआई प्रमुख के रूप में पदोन्नति की घोषणा करते हुए एक अधिसूचना जारी की थी.

यह भी पढ़ें : पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई ने भारत के खिलाफ फिर रची यह खूंखार साजिश

इससे पहले मंगलवार को प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा अधिसूचना जारी किए जाने से पहले लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद, पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और पीएम इमरान खान ने आईएसआई सचिवालय में मुलाकात की. अंजुम पाकिस्तान सेना की पंजाब रेजिमेंट से ताल्लुक रखते हैं और कराची कोर के कमांडर के रूप में भी काम कर चुके हैं. उन्होंने बलूचिस्तान में उन तत्वों के खिलाफ कई अभियानों का नेतृत्व किया है जिन्हें पाकिस्तान देश की सुरक्षा के लिए खतरा मानता है. लेफ्टिनेंट जनरल अंजुम ने पाकिस्तान की पूर्वी सीमा यानी नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर उनकी पोस्टिंग हो चुकी है. पाकिस्तानी समाचार एजेंसियों की रिपोर्ट के अनुसार, उनके अधीनस्थ अक्सर उन्हें तेज-तर्रार अधिकारी के रूप में संदर्भित करते हैं.  यूके में रॉयल कॉलेज ऑफ डिफेंस स्टडीज से स्नातक अंजुम के पास एशिया-पैसिफिक सेंटर फॉर सिक्योरिटी स्टडीज, होनोलूलू से डिग्री प्राप्त की है. पाकिस्तान सेना के मीडिया विंग द्वारा पहले की गई घोषणा से अटकलें लगाईं कि इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार और देश की सेना के बीच मतभेद हो सकते हैं. हालांकि सेना के पसंदीदा अंजुम की नियुक्ति के बाद इमरान सरकार खुद को कमजोर महसूस कर रही है. 

First Published : 27 Oct 2021, 07:20:35 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.