News Nation Logo
Banner

जेल में बंद नवाज शरीफ और बेटी मरियम जल्द छोड़ देंगे पाकिस्तान, इमरान खान के साथ ये हुई है डील

भ्रष्टाचार और आय से अधिक संपत्ति मामले में जेल की सजा काट रहे पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) और उसकी बेटी मरियम नवाज (Maryam Nawaz) शीघ्र ही रिहा हो सकते हैं.

By : Deepak Pandey | Updated on: 15 Sep 2019, 06:26:12 AM
पाक पूर्व पीएम नवाज शरीफ और बेटी मरियम नवाज (फाइल फोटो)

पाक पूर्व पीएम नवाज शरीफ और बेटी मरियम नवाज (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भ्रष्टाचार और आय से अधिक संपत्ति मामले में जेल की सजा काट रहे पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) और उसकी बेटी मरियम नवाज (Maryam Nawaz) शीघ्र ही रिहा हो सकते हैं. प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के नेता हुमायूं अख्तर ने ये दावा किया है. उन्होंने कहा, नवाज शरीफ के साथ डील हो गई है. वो जल्द ही अपनी बेटी मरियम नवाज के साथ पाकिस्तान छोड़ देंगे.

यह भी पढ़ेंःसीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया इस 'रक्तबीज' से पैदा होते हैं रोज नए 'राक्षस'

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पीटीआई के नेता हुमायूं अख्तर ने टीवी को हुए कार्यक्रम में इस डील का खुलासा किया है. उन्होंने कहा, नवाज शरीफ का परिवार नहीं चाहता कि इस डील के बारे में पाकिस्तान की जनता को पता चले, इसलिए इसकी गोपनीयता बरती जा रही है. हालांकि, इसी कार्यक्रम में मौजूद नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PMLN) के प्रवक्ता ने ऐसी किसी भी डील से इनकार किया है.

हुमायूं अख्तर ने दावा किया कि मेरी जानकारी के मुताबिक नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज दोनों इस डील के लिए तैयार हो गए हैं और जल्द ही डील के पेपर पर हस्ताक्षर करेंगे. डील के अनुसार, वह जेल से रिहा होते ही कुछ पैसा लौटाएंगे और फिर पाकिस्तान छोड़कर चले जाएंगे. इसके लिए एक प्लेन तैयार रहेगा. बता दें कि इससे पहले भी पाकिस्तानी मीडिया में नवाज शरीफ से डील की खबरें सामने आई थीं. ये भी बताया जा रहा है कि पाकिस्तान की जनता का ध्यान भटकाने के लिए नवाज शरीफ का मुद्दा उठाया जा रहा है.

यह भी पढ़ेंःअब घर खरीदना और टैक्स अदा करना हुआ आसान, 6 प्वाइंट में समझें निर्मला सीतारमण के ऐलान

बता दें कि पाकिस्तान में ब्लड मनी कानून है. इस कानून के तहत अगर दोषी और पीड़ित की बीच समझौता हो जाता है तो दोषी की सजा रद्द हो जाती है. इसमें दोषी पक्ष पीड़ित को डील के हिसाब से तय रकम अदा करता है. इमरान खान के नेता हिमायूं अख्तर ने डील के पीछे इसी कानून का हवाला दिया है. हालांकि, इमरान सरकार ने ऐसा कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है.

2018 में पाकिस्तान की एक अकाउंटबिलिटी कोर्ट ने एवेनफील्ड भ्रष्टाचार मामले में नवाज शरीफ को 10 साल और उनकी बेटी मरियम को 7 साल की सजा सुनाई थी. कोर्ट ने नवाज पर 73 करोड़ रुपये (80 लाख पाउंड) और मरियम पर 18 करोड़ 24 लाख रुपये (20 लाख पाउंड) का जुर्माना भी लगाया था. इसके अलावा नवाज शरीफ के दामाद कैप्टन (सेवानिवृत) सफदर को एक साल की सजा सुनाई गई थी.

First Published : 14 Sep 2019, 09:03:24 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×