News Nation Logo
Banner

बेरूत को बर्बाद करने वाले खतरनाक एसिड के 52 कंटेनर अभी भी मौजूद

4 अगस्त 2020 को बेरूत के बंदरगाह पर दो विस्फोट हुए, जिसमें 200 लोगों की मौत हो गई और कम से कम 6,000 लोग घायल हो गए.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 04 Jan 2021, 01:46:30 PM
Beirut Chemical Destruction

रसायनिक धमाकों से लगभग बर्बाद हो गया था बेरूत. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

बेरूत:

बेरुत के बंदरगाह के नए निदेशक ने कहा है कि यहां अभी भी खतरनाक एसिड के 52 कंटेनर मौजूद हैं और एक जर्मन कंपनी उन्हें हटाने की कोशिश कर रही है. जर्मन कंपनी कॉम्बी लिफ्ट आठ अलग-अलग प्रकारों के एसिड को पैक कर रही है और यूरोपीय मानकों के अनुसार उनके शिपिंग को सुनिश्चित करेगी. सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने रविवार को बानम अल-काइसी को पैन-अरब दैनिक अशर-अल-अस्वत के हवाले से ये जानकारी दी.

बंदरगाह पर एसिड की उपस्थिति के बारे में लेबनानी और जर्मन पर्यावरण मंत्रालयों द्वारा जारी रिपोटरें के बाद यह कदम उठाया गया है. काइसी ने लापरवाही के लिए बंदरगाह पर एसिड की मौजूदगी और उन्हें नष्ट करने या फिर से निर्यात करने के लिए आवश्यक लंबी प्रशासनिक प्रक्रियाओं को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि लेबनानी सेना ने लगभग एक सप्ताह में बंदरगाह पर उपलब्ध 10,000 कंटेनरों में से 725 की जांच की है.

4 अगस्त 2020 को बेरूत के बंदरगाह पर दो विस्फोट हुए, जिसमें 200 लोगों की मौत हो गई और कम से कम 6,000 लोग घायल हो गए. 300,000 से ज्यादा लोग बेघर हो गए. लेबनान की राजधानी का एक बड़ा हिस्सा इस विस्फोट में नष्ट हो गया था. जांच में बताया गया है कि विस्फोट बंदरगाह पर मौजूद लगभग 500 टन अमोनियम नाइट्रेट के चलते हुआ था.

First Published : 04 Jan 2021, 01:46:30 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.