News Nation Logo

नफरत फैलाने वाला जाकिर नाइक फुटबॉल वर्ल्ड कप में देगा भाषण!

News Nation Bureau | Edited By : Apoorv Srivastava | Updated on: 20 Nov 2022, 04:47:46 PM
Zakir Naik News

Zakir Naik News (Photo Credit: social Media)

नई दिल्ली :  

Zakir Naik and Football World Cup : कतर में फीफा वर्ल्ड कप के पहले दिन के मैच शुरू होने से पहले ही एक ट्वीट ने धमाका कर दिया. ट्वीट में जानकारी दी गई कि इस फुटबॉल वर्ल्ड कप में जाकिर नाइक दीनी व्याख्यान देंगे. दीनी व्याख्यान का मतलब है कि धर्म से जुड़े हुए भाषण. जैसे ही यह खबर भारतीयों को पता चली तो करोड़ों लोग सन्न रह गए. दरअसल, जाकिर नाइक भारत में भगोड़ा घोषित है. भारत में उसके ऊपर तमाम मुकदमे दर्ज हैं. इन मुकदमों में  हेट स्पीच और आतंकवाद के लिए प्रेरित करने के भी मुकदमे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हाल में गिरफ्तार कई आतंकियों ने ये बताया था कि वह जाकिर नाइक का वीडियो देख आतंकवाद के रास्ते पर चले थे. इसके अलावा जाकिर नाइक पर मनी लॉंड्रिंग, समाज में नफरत फैलाने जैसे मुकदमे दर्ज हैं.

इसे भी पढ़ें : Aindrila Sharma death: 24 साल की उर्म में एक्ट्रेस एंड्रिला शर्मा ने दुनिया को बोला अलविदा, जानें मौत की वजह

जाकिर नाइक के भाषण कितने खतरनाक होते हैं, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि देश के गृह मंत्रालय तक ने ये कहा था कि जाकिर नाइक के भाषण आपत्तिजनक और विध्वंसक हैं. भारत सरकार ने साल 2016 में नाइक से संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन पर प्रतिबंध लगा दिया था. आरोप था कि इसी फाउंडेशन की आड़ में मनी लॉंड्रिंग का भी खेल चल रहा था. गिरफ्तारी के डर से जाकिर नाइक मलेशिया भाग गया था. साल 2017 में उसे भगोड़ा घोषित कर दिया गया था. यही नहीं, साल 2021 में जब पाकिस्तान में एक मंदिर तोड़ने की घटना सामने आई थी तब जाकिर नाइक ने इस संबंध में बयान जारी किया था. जाकिर नाइक ने कहा था कि मंदिर तोड़ना बिल्कुल गलत नहीं है. इस्लामिक देश में मंदिर नहीं होने चाहिए. 

अब कतर के सरकारी खेल चैनल अलकास के प्रस्तोता फैसल अलहाजरी ने ट्वीटर पर यह जानकारी दी है कि कतर के फुटबॉल वर्ल्ड कप में जाकिर नाइक धर्म के नाम पर भाषण देगा. फिलहाल भारत सरकार की ओर से इस पर कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं आई है लेकिन सोशल  मीडिया पर इस पर बहस शुरू हो गई है. एक ओर जहां जाकिर नाइक के फुटबॉल वर्ल्ड कप में भाषण देने की खबर आई है, वहीं जाकिर नाइक से जुड़ी एक और बड़ी खबर आई है. मलेशिया में जाकिर नाइक को शरण देने वाले वहां के पूर्व प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद चुनाव हार गए हैं. इस हार के साथ 97 साल के महातिर का राजनीतिक करियर खत्म माना जा रहा है. 

 

First Published : 20 Nov 2022, 04:47:46 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.