News Nation Logo
Banner

पाकिस्तान सरकार से हरी झंडी मिलते ही गुर्गों समेत हाफिज सईद होगा गिरफ्तार, जानें क्या है मामला

26/11 हमले के मास्टरमाइंड और आतंकी संगठन जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद (Hafiz Saeed) और उनके 12 करीबियों को जल्द ही गिरफ्तार किया जा सकता है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 06 Jul 2019, 05:49:15 PM
हाफिज सईद (फाइल फोटो)

हाफिज सईद (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

26/11 हमले के मास्टरमाइंड और आतंकी संगठन जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद (Hafiz saeed) और उनके 12 करीबियों को जल्द ही गिरफ्तार किया जा सकता है. पंजाब पुलिस ने यह जानकारी दी है. पिछले दिनों पंजाब पुलिस के आतंकवाद निरोधक विभाग (सीटीडी) ने टेरर फंडिंग मामले में हाफिज समेत जमात के 13 नेताओं के खिलाफ 23 एफआईआर दर्ज की थीं. इन लोगों के खिलाफ पंजाब प्रांत के विभिन्न शहरों में केस दर्ज किया गया है.

यह भी पढ़ेंः अयोध्या से जल भर कर आ रहे कांवरिया को दौड़ाकर पीटा, कांवर तोड़ी, देखें Video

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब पुलिस के प्रवक्ता नियाब हैदर नकवी ने कहा, एफआईआर दर्ज होने के बाद इन संदिग्धों को कभी भी गिरफ्तार किया जा सकता है. यह पूछे जाने पर कि क्यों सीटीडी ने एफआईआर में नामजद होने के बाद हाफिज और उसके करीबियों को गिरफ्तार क्यों नहीं किया. इस पर नकवी ने कहा कि पहले संदिग्धों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाती है और उसके बाद गिरफ्तारी की जाती है.

यह भी पढ़ेंः कर्नाटक: संकट में कुमारस्वामी सरकार, 11 विधायकों ने दिया इस्तीफा, कांग्रेस ने बुलाई आपात बैठक

इससे पहले भी पुलिस टेरर फंडिंग मामले में प्रतिबंधित संगठनों के कुछ सदस्यों को गिरफ्तार किया गया था और बाद में उन्हें आतंकवाद रोधी अदालतों द्वारा सजा भी सुनाई गई. गौरतलब है कि हाल ही में अदालत ने जमात और जैश-ए-मोहम्मद के 12 सदस्यों को पांच साल कैद की सजा सुनाई थी.

यह भी पढ़ेंः कर्नाटक के बाद आंध्र प्रदेश में भी 'ऑपरेशन लोटस', 18 TDP विधायक हो सकते हैं BJP में शामिल

सूत्रों का कहना है कि मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद लाहौर के जौहर टाउन में अपने घर पर है. पुलिस को पाकिस्तान सरकार से हरी झंडी मिलने का इंतजार है, ताकि उसे गिरफ्तार किया जा सके. सूत्रों का कहना है कि हाफिज को इस हफ्ते कभी भी गिरफ्तार किया जा सकता है, क्योंकि टेरर फंडिंग पर नजर रखने वाली फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की शर्तों को पूरा करने का सरकार पर काफी दबाव है. अगर पाकिस्तान कार्रवाई नहीं करता है तो उसे काली सूची में डाला जा सकता है.

ये लोग पुलिस के रडार पर

सीटीडी ने हाफिज सईद के अलावा जमात के डिप्टी चीफ और उसके रिश्तेदार अब्दुल रहमान मक्की, मलिक जफर इकबाल, अमीर हमजा, मुहम्मद याहया अजीज, मुहम्मद नईम शाह, मोहसिन बिलाल, अब्दुल रकीब, अहमद दाऊद, मुहम्मद अयूब, अब्दुल्ला उबैद, मुहम्मद अली और अब्दुल गफ्फार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है.

First Published : 06 Jul 2019, 05:49:15 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×