News Nation Logo
Banner

स्पेन के बाद नीदरलैंड के साथ चीन ने खेला 'मास्क चाल', बढ़ गए कोरोना के मामले!

नीदरलैंड ने कोरोना से बचने के लिए चीन से लाखों की संख्या में मास्क मंगवाए थे. नीदरलैंड ने 13 लाख मास्क के ऑर्डर दिए थे. जिसमें से चीन ने 6 लाख मास्क की सप्लाई की.लेकिन यह मास्क सही नहीं निकला.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 30 Mar 2020, 04:10:18 PM
xi jinping

शी जिनपिंग (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

पूरी दुनिया को कोरोना वायरस (Coronavirus) की आग में झोंकने वाला चीन अब खुद चैन की बंसी बजा रहा है. इटली, स्पेन, ईरान और अमेरिका समेत दुनिया के आधे से भी ज्यादा देशों में एक के बाद एक लाशें गिर रही हैं और चीन (China) कोरोना से इलाज के नाम पर अभी भी दुनिया को ठगी का शिकार बना रहा है. स्पेन के बाद नया मामला नीदरलैंड्स से सामने आया है. नीदरलैंड ने कोरोना से बचने के लिए चीन से लाखों की संख्या में मास्क मंगवाए थे. नीदरलैंड ने 13 लाख मास्क के ऑर्डर दिए थे. जिसमें से चीन ने 6 लाख मास्क की सप्लाई की.

लेकिन यह मास्क कोरोना को रोकने में नाकामयाब हुआ. दरअसल चीन से आये इन सभी मास्क की गुणवत्ता इतनी खराब थी कि इससे कोरोना का खतरा और बढ़ गया. जांच में पता चला कि चीन से आए FFP2 मास्क पूरी तरह से चेहरे को नहीं ढकता है और इसमें लगा फिल्टर मेंबरन भी सही तरीके से काम नहीं कर रहा. जिसकी वजह से कोरोना का खतरा और बढ़ गया.

नीदरलैंड सरकार ने चीन को मास्क वापस लौटाने का किया फैसला, लेकिन...

नीदरलैंड सरकार ने चीन को ये सारे मास्क वापस लौटाने का फैसला किया है पर मुश्किल ये है कि आनन फानन में ये मास्क कोरोना से जंग लड़ रहे अस्पतालों को बांट दिए गए हैं इसलिए अब उन्हें वापस करना भी आसान नहीं.

इसे भी पढ़ें:Corona: भारतीय-अमेरिकियों ने दिहाड़ी श्रमिकों की मदद के लिए इकट्ठे किए पैसे, बनाई हैल्पलाइन

ऐसे में नीदरलैंड सरकार ने फिलहाल तो बाकी बचे मास्क पर रोक लगा दी है. नीदरलैंड की हेल्थ मिनिस्ट्री ने एक बयान जारी करके कहा है कि अब इन मास्क का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा और भविष्य में भी चीन से कोई मास्क लेने से पहले उसकी पूरी जांच की जाएगी.

स्पेन को भी चीन ने लगाया था चूना 

जाहिर है नीदरलैंड जैसे देश कोरोना का कहर झेल रहे हैं और चीन उन्हें मास्क और जांच किट बेचने के नाम पर करोड़ों का मुनाफा कमा रहा है. दरअसल पूरी दुनिया में कोरोना वायरस फैलाने के बाद अब चीन इन देशों को मास्क बेचकर नोट छाप रहा है. चीन में सैकड़ों की संख्या में ऐसी फैक्ट्रियां खुल गई हैं जो मास्क बनाकर उन्हें दुनिया के कई देशों में खपा रही हैं. खास एन-95 मास्क बनाने के नाम पर चीन जमकर धोखाधड़ी कर रहा है.

और पढ़ें:उत्तर कोरिया ने ‘बहुत बड़े’ रॉकेट लांचर का परीक्षण किया

चीन ने स्पेन से कहा बिना लाइसेंस कंपनी से लिए माल

बता दें कि स्पेएन ने कोरोना वायरस की तेजी से जांच के लिए चीन से करीब 6 लाख से भी ज्यादा जांच किट खरीदे थे. किट बेचने वाली चीनी कंपनी का दावा था कि इससे 10 से 15 मिनट में कोरोना के मरीज का पता लग जाता है पर ये जांच किट फ्लॉप साबित हुए और सौ में से सिर्फ तीस मरीजों का ही पता लगा पा रहे हैं. ऐसे में स्पेन ने चीन के जांच किट नहीं इस्तेमाल करने का फैसला लेते हुए उन्हें वापस करने की बात कही है पर चीन ने ये कहकर अपना पल्ला झाड़ लिया है कि ये जांच किट बायोइजी नाम की एक कंपनी ने बनाए हैं जिसके पास इसका आफिशियल लाइसेंस ही नहीं है.

First Published : 30 Mar 2020, 04:10:18 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

COVID19 China Netherlands Mask
×