News Nation Logo
Banner

कोरोना से अभी और पड़ेगा जूझना, 2021 के अंत तक सामान्य नहीं हो पाएगी जिंदगी : अमेरिकी विशेषज्ञ

अमेरिका के प्रख्यात कोरोना वायरस विशेषज्ञ डॉ एंथनी फाउची के बयान ने लोगों को डरा दिया है. फाउची के मुताबिक 2021 के अंत तक जिंदगी सामान्य होने की कोई उम्मीद नहीं है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 13 Sep 2020, 04:21:58 PM
corona virus

2021 के अंत तक सामान्य नहीं हो पाएगी जिंदगी : अमेरिकी विशेषज्ञ (Photo Credit: प्रतिकात्मक फोटो)

नई दिल्ली :

कोरोना वायरस (Corona Virus) ने दुनिया में त्राहिमाम मचा कर रख दिया है. जिंदगी अस्त-व्यस्त हो चुकी है. हर इंसान के जहन में यही है कि आखिर इस वायरस का अंत कब होगा. कोरोना वैक्सीन का इंतजार हर कोई कर रहा है. लेकिन
अमेरिका के प्रख्यात कोरोना वायरस विशेषज्ञ डॉ एंथनी फाउची के बयान ने लोगों को डरा दिया है. फाउची के मुताबिक 2021 के अंत तक जिंदगी सामान्य होने की कोई उम्मीद नहीं है.

वैक्सीन को लेकर फाउची का कहना है कि भले ही वैक्सीन को इस साल के आखिर तक या अगले साल तक मंजूरी मिल जाती है. लेकिन तुरंत सभी लोगों तक ये नहीं पहुंच पाएगी. वैक्सीन के बड़े पैमाने पर उत्पादन और सप्लाई की जरूरत होगी. एक चैनल को दिए इंटरव्यू में फाउची ने यह बात कही.

इसे भी पढ़ें: CoronaVirus: एमपी में हर रोज 50 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ी

अमेरिका के प्रख्यात कोरोना वायरस विशेषज्ञ ने कहा कि 2021 के मध्य और अंत तक यह सभी लोगों तक पहुंच जाएगा ऐसी उम्मीद नहीं है.

उन्होंने वैक्सीन के कोल्ड स्टोरेज को लेकर भी कहा कि वैक्सीन को रखने के लिए फ्रीजर की जरूरत होती है. एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए कोल्ड चेन बनाना पड़ता है.

कोरोना के लिए बनाई गई दवाइयों को लेकर भी फाउची ने चिंता जताई. उन्होंने कहा कि यह भी चीज काफी परेशान करती है कि बिना वैज्ञानिक सबूत के कई दवाओं के बारे में दावा किया जाता है कि इनके काफी फायदे हैं. ऐसे में इसे खारिज करने में विशेषज्ञों का काफी वक्त बरबाद हो जाता है. लोग कोरोना को लेकर गलत जानकारी भी फैला रहे हैं जिसकी वजह से वायरस से लड़ाई मुश्किल हो गई है.

और पढ़ें: भारत में कोरोना के मामले 47 लाख के पार, 24 घंटे में मिले 94 हजार से अधिक मरीज

फाउची ने लोगों को बाहर निकलने या फिर भीड़ लगाने से भी मना किया है. उनका कहना है कि कुछ लोगों की सोच है कि यह बहुत बड़ी बीमारी नहीं है. लेकिन वो ये भूल जाते हैं कि वो दूसरे को भी संक्रमित करते हैं जिसकी वजह से किसी और की जान चली जाती है, या उसकी जान पर बन आती है.

First Published : 13 Sep 2020, 04:21:58 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो