News Nation Logo
Banner

चीनी मीडिया और अधिकारियों का भारत को कड़ा संदेश, हो सकता है युद्ध

सरकारी अखबार ने एक बार फिर से भारत को धमकी दी है कि युद्ध के लिये चीन काउंटडाउन शुरू कर चुका है। दूसरी तरफ चीन के अधिकारी भी कह रहे हैं कि संप्रभुता की रक्षा के लिये चीन युद्ध से पीछे नहीं हटेगा।

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Tripathi | Updated on: 09 Aug 2017, 09:14:34 PM

नई दिल्ली:

डाकोला (डोकलाम) पर चीन के सरकारी अखबार ने एक बार फिर से भारत को धमकी दी है कि युद्ध के लिये चीन काउंटडाउन शुरू कर चुका है। दूसरी तरफ चीन के अधिकारी भी कह रहे हैं कि संप्रभुता की रक्षा के लिये चीन युद्ध से पीछे नहीं हटेगा। 

अखबार ने अपने संपादकीय में लिखा है कि डाकोला से भारत को अपनी सेना हटा लेनी चाहिये नहीं तो वो खुद को कोसेगा।

संपादकीय में लिखा गया है, 'दोनों देशों की सेनाओं के बीच युद्ध का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। समय उसी दिशा में आगे बढ़ रहा है, जहां समाधान का कोई रास्ता नहीं बचेगा गतिरोध का सातवां हफ्ता शुरू हो चुका है और इसी के साथ ही शांतिपूर्ण हल निकलने का रास्ता भी बंद होता जा रहा है।'

अखबार में कहा गया है कि किसी भी आंख और कान वाले को चीन का संदेश मिल रहा है। लेकिन भारत अभी भी होश में आने को तैयार नहीं है।

इससे पहले भी ग्लोबल टाइम्स ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा था कि 1962 की नेहरू वाली 'गलती' न करें।

और पढ़ें: डाकोला क्षेत्र विवाद ज्यादा गंभीर मुद्दा नहीं : दलाई लामा

हालांकि भारत और चीन का कहना है कि इस विवाद को हल वो राजनयिक तरीके से करने की कोशिश कर रहा है। लेकिन चीनी मीडिया लगातार धमकी दे रहा है।

चीन के विदेश विभाग की अधिकारी वांग वेनली ने कहा, 'अगर वहां पर एक भी भारतीय सैनिक है और एक दिन के लिये भी है तो वो हमारी संप्रभुता में दखलंदाजी माना जाएगा।'

जब उनसे पूछा गया कि क्या चीन भारत के साथ युद्ध करेगा, ते उन्होंने कहा, 'मैं इतना ही कह सकती हूं कि चीनी सेना और चीन की सरकार में दृढ़ इच्छा शक्ति है। अगर भारत गलत रास्ता चुनता है और उसे अब भी इस बारे में कोई भ्रम है तो हमें पूरा अधिकार है कि हम कार्रवाई करें। जो अंतरराष्ट्रीय नियमों और कानून के तहत होगा।'

और पढ़ें: कांग्रेस ने क्रॉस वोटिंग मामले में 14 विधायकों को किया पार्टी से बाहर

पूरे प्रकरण पर रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने राज्यसभा में कहा कि भारत ने 1962 के युद्ध से सबक लिया है और देश की सेना हर हालात से निपटने में सक्षम है। हालांकि वो इस मुद्दे पर कुछ नहीं बोले लेकिन उनके बयान को डाकोला में चल रहे तनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

और पढ़ें: नीतीश कुमार का बीजेपी के खेमे में जाना जनादेश का अपमान: तेजस्वी यादव

First Published : 09 Aug 2017, 09:12:19 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

India China Doklam

वीडियो