News Nation Logo
Breaking
Banner

भारत को चीन की धमकी, कहा-पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के मुकाबले पहाड़ हिलाना आसान

सिक्किम में जारी सीमा विवाद और सैन्य गतिरोध को लेकर चीन ने एक बार फिर से हेकड़ी दिखाई है। चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, 'हम एक बार फिर से सीमा के पास से भारतीय सेना को वापस बुलाए जाने की मांग करते हैं।'

News Nation Bureau | Edited By : Abhishek Parashar | Updated on: 24 Jul 2017, 12:26:25 PM
चीनी रश्रा मंत्रालय के प्रवक्ता वु चियान (फाइल फोटो)

highlights

  • सिक्किम में जारी सीमा विवाद और सैन्य गतिरोध को लेकर चीन ने एक बार फिर से हेकड़ी दिखाई है
  • चीन के रक्षा मंत्रालय ने कहा सीमा से सैनिक हटाए बिना भारत के साथ कोई बातचीन नहीं होगी

नई दिल्ली:  

सिक्किम में जारी सीमा विवाद और सैन्य गतिरोध को लेकर चीन ने एक बार फिर से हेकड़ी दिखाई है। चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, 'हम एक बार फिर से सीमा के पास से भारतीय सेना को वापस बुलाए जाने की मांग करते हैं।' चीन ने भारत को एक बार फिर से धमकाते हुए उसे किसी तरह के भुलावे में नहीं रहने की चेतावनी दी।

रक्षा मंत्रालय ने कहा, 'पहाड़ को हिलाना आसान है लेकिन पीपुल्स लिबरेश आर्मी को हिलाना बेहद मुश्किल है।' अपनी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की हिफाजत करने के मामले में चीन की ताकत लगातार मजबूत हुई है।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता वु चियान ने कहा, 'यह हमारी तरफ से स्थिति को सामान्य करने की दिशा में उठाए जाने वाले किसी कदम के लिए पूर्व निर्धारित शर्त है। इस इलाके में शांति के लिए सीमाई इलाकों में शांति का होना जरूरी है।'

गौरतलब है कि पिछले एक महीने से अधिक समय से सिक्किम के डाकोला सेक्टर में भारतीय और चीनी सेना आमने-सामने हैं। दरअसल भारत ने डाकोला सेक्टर में चीन की तरफ से बनाए जा रहे सड़क निर्माण का विरोध किया था।

भारत-चीन के बीच सीमा पर तनाव बन सकता है युद्ध का कारण: चीनी विशेषज्ञ

भारत का कहना रहा है कि चीन इस इलाके में 2012 के समझौते का उल्लंघन कर रहा है, जिसके तहत इस इलाके में यथा स्थिति को बनाए रखा जाना है।

सीमा विवाद को लेकर चीन लगातार भारत से उसके सैनिकों को वापस बुलाए जाने की मांग कर रहा है। हालांकि भारत यह साफ कर चुका है कि चीन को पहले इस इलाके से वापस जाना होगा, जिसके बाद भारत की सेना पीछे हटेगी।

पेंटागन की हिदायत, भारत चीन ताकत नहीं आपसी बातचीत से मसले तय करें

First Published : 24 Jul 2017, 12:04:25 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.