News Nation Logo
विपक्षी सांसदों की नारेबाजी के बीच राज्यसभा आज दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित हुई भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की बाबा साहब आंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस आज. बसपा कर रही बड़ा कार्यक्रम नीट काउंसिलिंग में हो रही देरी के खिलाफ रेजिडेंट डॉक्टर्स आज ठप रखेंगे सेवा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन आज आ रहे भारत. कई समझौतों को देंगे अंतिम रूप पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह आज करेंगे अमित शाह-जेपी नड्डा से मुलाकात.

उइगर मुस्लिम का नरसंहार कर रहा है चीन, पाकिस्तान ने साधी है चुप्पी

चीन (China) के जिनजियांग प्रांत में उइगर (Uighur) मुसलमानों और उनकी संस्कृति का दमन पूरी तरह से सुनियोजित तरीके से चल रहा है.

Written By : विजय शंकर | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 23 Oct 2021, 08:30:21 AM
Uighur Muslims

जिनजियांग प्रांत में उइगर मुसलमानों पर जारी है चीन का कहर. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • ऑस्ट्रेलियन पॉलिसी इंस्टीट्यूट की एक रिपोर्ट में बीजिंग प्रशासन बेनकाब
  • जिनजियांग प्रांत में पूर्वनियोजित तरीके से मुस्लिमों का हो रहा नरसंहार
  • दुनिया चिल्ला रही है दमन पर, लेकिन पाकिस्तान ने साध रखी है चुप्पी

सिडनी:

चीन (China) के जिनजियांग प्रांत में उइगर (Uighur) मुसलमानों और उनकी संस्कृति का दमन पूरी तरह से सुनियोजित तरीके से चल रहा है. उइगर मुसलमानों की दमन तब जारी है, जब बीते कई सालों में पश्चिमी देशों ने इसे नरसंहार तक करार दिया गया है. अब ऑस्ट्रेलियन पॉलिसी इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट में भी बीजिंग प्रशासन पर अंगुली उठाई गई है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि सिर्फ उइगर ही नहीं चीन की कम्युनिस्ट (Communist) सरकार आम लोगों पर भी बेहद सख्त निगाह रखती है. किसी भी विद्रोह को दबाने के लिए सरकार की तरफ से दमन का हर तरीका अपनाया जाता है. यह रिपोर्ट जिनजियांग में चीनी सरकार की तानाशाही की पड़ताल करती है. इस रिपोर्ट का नाम है-द आर्किटेक्चर ऑफ रिप्रेशन: अनपैकिंग जिनजियांग गवर्नेंस. ये रिपोर्ट बताती है कि 2014 के बाद से जिनजियांग में उइगर और तुर्की अल्पसंख्यकों के मानवाधिकारों का तय रणनीति के तहत दमन किया जा रहा है.

उइगरों के खिलाफ युद्ध छेड़े है बीजिंग प्रशासन
जानकारी के मुताबिक 80 पेज की इस रिपोर्ट में मानवाधिकार हनन के मामलों पर चीन का असली चेहरा दुनिया के सामने उजागर किया गया है. इस रिपोर्ट में दिखाया गया है कि कैसे जिनजियांग में कम्युनिस्ट पार्टी के शासन वाला स्टेट उइगरों के खिलाफ युद्ध छेड़े हुए है. इस रिसर्च को युनाइटेड किंग्डम फॉरेन, कॉमनवेल्थ एंड डेवलपमेंट ऑफिस ने फंड प्रदान किया है. उइगर लोगों की जिंदगी पर नियंत्रण हासिल करने के लिए ट्रिनिटी मैकेनिजम के इस्तेमाल की चर्चा इस रिसर्च में की गई है. 2014 में इस मैकेनिजम को आतंकरोधी अभियान के लिए जिनजियांग के कुछ इलाकों में इस्तेमाल किया गया था, लेकिन अब ये क्षेत्र में लगभग हर जगह लागू है. इस ट्रिनिटी मैकेनजिम के तहत गांव के कमेटी अधिकारी, पुलिस अधिकारी, केंद्रीय अधिकारियों की टीम साथ मिलकर काम करते हैं, जिनकी निगाह हर व्यक्ति पर होती है.

यह भी पढ़ेंः RSS कभी नहीं कहता हम दक्षिणपंथी हैं, दत्तात्रेय होसबले का बड़ा बयान

दमन पर पाकिस्तान की चुप्पी
यह अलग बात है कि उइगर मुसलमानों के दमन वाले चीन के कदमों पर पाकिस्तान ने चुप्पी ओढ़ रखी है. बीते सप्ताह भी उइगर मुसलमानों के मानवाधिकार उल्लंघन के आरोपों के बारे में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि मानवाधिकारों पर चुनिंदा घोषणाएं अनैतिक हैं. उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान ने उइगर मुद्दे पर चीन से बात की है और इसे जवाब भी मिला है. उन्होंने कहा, ‘हमारे और चीन के बीच एक समझ है. हम एक-दूसरे से बंद दरवाजे में बात करेंगे, क्योंकि यह उनकी प्रकृति और संस्कृति है.’

First Published : 23 Oct 2021, 08:29:05 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.