News Nation Logo
Banner

भारत और पीएम मोदी के कारण विश्‍व जीतेगा कोरोना से जंगः जस्टिन ट्रूडो

पीआईबी के अनुसार कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने टेलीफोन वार्ता के दौरान की  भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी  नेतृत्व की तारीफ.

News Nation Bureau | Edited By : Sanjeev Mathur | Updated on: 15 Feb 2021, 09:57:27 AM
unnamed  1

कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो और पीएम मोदी (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • जस्टिन ट्रूडो भारत के किसान आंदोलन में दखलअंदाजी की वजह से निशाने पर आए थे
  • आपसी हित के सभी मुद्दों पर चर्चा
  • मोदी के सामने कोरोना टीकों की मांग रखी.

नई दिल्ली:

राजनीति और कूटनीति की दुनिया भी अजीब होती है. इसमें पता नहीं चलता कि कब कौन आलोचक है और कब प्रशंसक बन जाए, इस दुनिया में दोस्‍ती दुश्‍मनी की परिभाषा बदलती रहती हैं.  हाल ही में एक ऐसा नजारा भारत कनाडा कूटनीतिक संबंधों में देखने को मिला .  भारत में किसान आंदोलन को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की सरकार की नीतियों की आलोचना करने चाले कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो एकाएक मोदी के मुरीद बन गए हैं.  चह मोदी की प्रशंसा करते थक नहीं रहे हैं.  हाल ही में  जस्टिन ट्रूडो(JUSTIN TRUDEAU) ने टेलीफोन वार्ता के दौरान की  भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी  नेतृत्व की तारीफ की. उन्‍होंने,प्रधानमंत्री मोदी को भारत से कोविड-19 टीकों की आपूर्ति संबंधी कनाडा की जरूरत के बारे में जानकारी दी.  इसपर, प्रधानमंत्री ने कनाडा के प्रधानमंत्री को आश्वस्त किया कि भारत कनाडा के टीकाकरण प्रयासों का हरसंभव मदद करने की कोशिश करेगा जैसा कि उसने कई अन्य देशों के लिए किया है.

कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो ने भारत की सराहना करते हुए कहा कि यदि दुनिया कोविड-19 के खिलाफ जंग को जीतने में कामयाब रही तो उसमें भारत की जबरदस्त फार्मास्‍युटिकल क्षमता और इस क्षमता को दुनिया के साथ साझा करने में प्रधानमंत्री मोदी का नेतृत्व महत्वपूर्ण होगा. प्रधानमंत्री मोदी ने कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो को उनकी इस भावना के लिए धन्यवाद दिया.

दोनों नेताओं ने कई महत्वपूर्ण भू-राजनीतिक मुद्दों पर भारत और कनाडा के समान रुख को भी दोहराया. उन्‍होंने जलवायु परिवर्तन और वैश्विक महामारी के आर्थिक प्रभाव जैसी वैश्विक चुनौतियों से निपटने में दोनों देशों के बीच घनिष्ठ सहयोग को जारी रखने पर भी सहमति जताई.

यह भी पढ़ेंः भारतीय सेना की बढ़ी ताकत, पीएम मोदी ने सौंपे अर्जुन मेन बैटल टैंक

दोनों नेताओं ने इस साल के अंत में विभिन्न महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर एक-दूसरे से मिलने और आपसी हित के सभी मुद्दों पर चर्चा जारी रखने के लिए उत्‍सुकता जताई.पीआईबी के अनुसार कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कोरोना वायरस (कोविड -19) की वैक्सीन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फोन किया था. इसके बाद से भारत ने फरवरी में कनाडा के लिए कोविशिल्ड वैक्सीन की 5 लाख खुराक की आपूर्ति को मंजूरी दे दी है.

बता दें कि हाल ही में कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो भारत के किसान आंदोलन में दखलअंदाजी की वजह से निशाने पर आए थे. उन्होंने भारत की तारीफ करते हुए पीएम मोदी के सामने कोरोना टीकों की मांग रखी. पीएम मोदी ने कनाडाई समकक्ष ट्रूडो को आश्वस्त किया कि भारत कनाडा के टीकाकरण प्रयासों में पूरा सहयोग करेगा.

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक, कनाडाई प्रधानमंत्री ने मोदी को फोन कर अपने देश में कोविड-19 के टीकों की आवश्यकताओं के बारे में बताया. पीएम मोदी ने जस्टिन ट्रूडो को आश्वस्त करते हुए कहा, ''भारत ने जैसे कई अन्य राष्ट्रों के लिए किया, ठीक उसी तरह कनाडा के टीकाकरण प्रयासों को सहयोग देने की पूरी कोशिश करेगा.''

यह भी पढ़ेंः क्या मुंबई की सड़कों पर अब नहीं दिखेंगे भिखारी

कोरोना के खिलाफ जंग में भारत के योगदान की तारीफ करते हुए ट्रूडो ने कहा कि यदि दुनिया कोरोना के खिलाफ जीतने में कामयाब होगी तो यह भारत के जबरदस्त औषधीय क्षमता की वजह से होगा. भारत की इस क्षमता को विश्व के साथ साझा करने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व की सराहना की। पीएम मोदी ने इन भावनाओं के लिए ट्रूडो को धन्यवाद कहा.

First Published : 15 Feb 2021, 09:41:29 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.