News Nation Logo
ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने लगातार तीसरे दिन पेट्रोल और डीजल को महंगा किया राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का दाम बढ़कर 106.89 रुपये प्रति लीटर हुआ युद्ध जारी रहते कवच नहीं उतारते यानी मास्क को सहज स्वभाव बनाएंः पीएम मोदी हरियाणा के बहादुरगढ़ में दो कारों में भीषण भिड़ंत, 8 लोग मरे आर्यन और अनन्या की गांजे को लेकर चैट आई सामने, अनन्या का जवाब - मैं अरेंज कर दूंगी राष्ट्रपति कोविन्द अपनी तीन दिवसीय बिहार यात्रा के अंतिम दिन गुरुद्वारा पटना साहिब, महावीर मंदिर गए आर्यन खान की चैट के आधार पर एनसीबी आज फिर करेगी अनन्या पांडे से पूछताछ पुंछ में आतंकियों पर सुरक्षा बलों का घेरा कसा. आज या कल खत्म कर दिए जाएंगे आतंकी दूत जम्मू-कश्मीर दौरे से पहले गृह मंत्री अमित शाह की आईबी-एनआईए संग हाई लेवल बैठक आज आज फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, 35 पैसे प्रति लीटर का हुआ इजाफा

ब्रिटेन में ऐतिहासिक तेल संकट, अब सेना बांटेगी पेट्रोल-डीजल

ब्रिटेन में ईंधन संकट की बड़ी वजह देश में एचजीवी ड्राइवर की कमी है. सरकार की ओर से अधिकृत आंकड़ों के अनुसार कोविड-19 संक्रमण काल में 40 हजार ट्रक ड्राइवरों को निलंबित किया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 02 Oct 2021, 11:06:10 AM
Britain Pump

26 फीसदी पंप पर एक बूंद पेट्रोलृडीजल नहीं है मौजूद. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • ट्रक ड्राइवरों की कमी से ब्रिटेन में आया ऐतिहासिक तेल संकट
  • अब ब्रिटिश सेना की मदद से पंप तक पहुंचाया जाएगा ईंधन
  • 40 हजार ट्रक ड्राइवर निलंबित, तो 20 हजार ने छोड़ा ब्रिटेन

लंदन:

विगत हफ्ते भर से अधिक से ब्रिटेन जबर्दस्त पेट्रोल-डीजल के संकट से जूझ रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक देश भर के 26 फीसदी पेट्रोल पंप में एक भी बूंद पेट्रोल-डीजल नहीं है. मांग के सापेक्ष आपूर्ति में आई इस भारी कमी को दूर करने के लिए ब्रिटिश सेना की मदद ली जा रही है. पेट्रोल रिटेल एसोसिएशन के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर गॉर्डन बाल्मर के मुताबिक महज 47 पीसदी पेट्रोल पंप पर ही पट्रोल और डीजल मौजूद है. माना जा रहा है कि जब तक 65 फीसदी निजी फिलिंग स्टेशन को ईंधन की पर्याप्त आपूर्ति नहीं होती, तब तक ईंधन संकट दूर नहीं होगा. 

ब्रिटेन में ईंधन संकट की बड़ी वजह देश में एचजीवी ड्राइवर की कमी है. सरकार की ओर से अधिकृत आंकड़ों के अनुसार कोविड-19 संक्रमण काल में 40 हजार ट्रक ड्राइवरों को निलंबित किया गया है. दूसरी ओर कहा जा रहा है कि ब्रेक्सिट समझौते के तहत लगभग 20 हजार विदेशी ट्रक ड्राइवर देश को छोड़ कर चले गए हैं. इस कारण भी ईंधन की कमी हुई है. ब्रिटेन के बिजनेस सेक्रेटरी क्वासी क्वारतेंग के मुताबिक ईंधन की कमी को दूर करने के लिए ब्रिटिश सेना की मदद ली जाएगी. सोमवार से सैनिकों की मदद से टैंकर फ्लीट को पेट्रोल पंप तक पहुंचाया जाएगा. 

सरकार के मुताबिक सैन्य बल अधिकारी सोमवार से पूरे ब्रिटेन में गैरेजों तक पेट्रोल की आपूर्ति करेंगे. करीब 200 सैनिक, जिनमें महिलाएं और 100 ड्राइवर शामिल हैं, स्टेशनों पर दबाव को कम करने के लिए अपनी अस्थायी सेवा देंगे. मंत्रियों ने घोषणा की है कि मार्च के आखिर तक ब्रिटेन में 300 विदेशी ईंधन टैंकर तेल की कमी को पूरा करेंगे. सरकारी बयानों के मुताबिक पेट्रोल स्टेशनों पर हालात सुधर रहे हैं और बिकने से ज्यादा पेट्रोल पहुंचाया जा रहा है, लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि देश के कुछ हिस्सों में स्थिति बेहद बुरी है. ज्यादातर छोटे पेट्रोल पंप सप्लाई में कमी का सामना कर रहे हैं क्योंकि ड्राइवरों ने वीकेंड के लिए अपनी गाड़ियों में पेट्रोल फुल करवा लिया है. सरकार ने कहा कि सैन्य अधिकारी फिलहाल इस बारे में प्रशिक्षित हो रहे हैं. जल्द ही देश में तेल की कमी को दूर करने के लिए सड़कों पर उतरेंगे.

First Published : 02 Oct 2021, 11:06:10 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.