News Nation Logo

BREAKING

Banner

Brexit : ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे यूरोपीय संघ से वार्ता के लिए तैयार

हाउस ऑफ कॉमन्स की नेता एंड्रिया लीडसम ने शुक्रवार को एक रेडियो साक्षात्कार में कहा कि थेरेसा मे ब्रेक्सिट मुद्दे पर चर्चा जारी रखने के मकसद से आने वाले दिनों में ब्रसेल्स जाएंगी.

IANS | Updated on: 16 Feb 2019, 12:44:21 PM
ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे Theresa May

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे Theresa May

लंदन:

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे (Theresa May) अपने ब्रेक्सिट समझौते को बचाने का प्रयास करने के लिए कुछ ही दिनों में यूरोपीय संघ (European Union) के अधिकारियों से मुलाकात करने के लिए ब्रसेल्स जाएंगी. हाउस ऑफ कॉमन्स की नेता एंड्रिया लीडसम ने शुक्रवार को एक रेडियो साक्षात्कार में कहा कि थेरेसा मे ब्रेक्सिट मुद्दे पर चर्चा जारी रखने के मकसद से आने वाले दिनों में ब्रसेल्स जाएंगी. हालांकि इसकी तारीख अभी तय नहीं की गई है. मे की दोनों पक्षों के बीच प्रस्तावित वार्ता गुरुवार को इस मसले पर हुए मतदान में उन्हें मिली शर्मनाक हार के बाद हुई, जिसमें खुद उनकी कंजर्वेटिव पार्टी के 60 सांसदों ने उनके द्वारा पहले स्वीकार किए गए ईयू (EU) समझौते के खिलाफ वोट किया था.

यह भी पढ़ें- अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कश्मीरी छात्र ने ट्विटर पर लिखा hows the jaish, प्रशासन ने की कार्रवाई

थेरेसा मे को उम्मीद है कि ईयू के वार्ताकार उत्तरी आयरलैंड सीमा विवाद मामले में पिछले प्रस्ताव में बदलाव के लिए उनके समक्ष पर्याप्त गुजांइश रखेंगे, जिससे कि वह सांसदों का समर्थन हासिल कर पाएंगी. राजनीतिक विश्लेषकों और कुछ शीर्ष नेताओं के मुताबिक, ब्रिटेन के ईयू से अलग होने से महज चार सप्ताह पूर्व 27 फरवरी को हाउस ऑफ कॉमन्स में संभावित शक्ति परीक्षण थेरेसा मे के लिए अंतिम रूप से निर्णायक साबित होगा. पूर्व एटोर्नी जनरल डोमिनिक ग्रीयेवे ने टाइम्स न्यूजपेपर से कहा कि 27 फरवरी को ब्रेक्सिट को लेकर होने वाले मतदान में एक दर्जन या अधिक सरकारी मंत्री इस्तिफा दे सकते हैं.

यह भी पढ़ें- इंसान का अचार, भ्रूण, जानवरों की खोपड़ी जैसी चीजों से भरा है ये स्टोर, भयावह कहानी जान कांप जाएगी रूह

ग्रीयेवे ने साक्षात्कार में कहा कि अगर थेरेसा मे बिना किसी समझौते के ब्रिटेन के ईयू से अलग होने के खतरे को दूर करने में नाकाम रहती हैं, तो इतने ज्यादा इस्तीफे आ सकते हैं कि उनकी सरकार गिर सकती है. मे अपना नवीनतम समझौता प्रस्ताव सांसदों के समक्ष 27 फरवरी को रखेंगी.

First Published : 16 Feb 2019, 12:35:17 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो