News Nation Logo

BREAKING

चीन का शक्ति प्रदर्शन, साउथ चाइना सी में नौसैनिक अभ्यास के लिये भेजा एयरक्राफ्ट करियर

अपनी सैन्य ताकत का प्रदर्शन करते हुए चीन ने अपने एकमात्र ऑपरेशनल एयरक्राफ्ट कैरियर को नौसैनिक ड्रिल के दौरान दक्षिण चीन सागर में उतारा है। उसके साथ दर्जनों दूसरे युद्धपोत भी थे।

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Tripathi | Updated on: 30 Mar 2018, 11:48:39 PM
दूसरे नौसैनिक जहाजों के बीच चीन का एयरक्राफ्ट कैरियर लियाओनिंग (घेरे में), फोटो स्रोत: ट्विटर

दूसरे नौसैनिक जहाजों के बीच चीन का एयरक्राफ्ट कैरियर लियाओनिंग (घेरे में), फोटो स्रोत: ट्विटर

नई दिल्ली :

अपनी सैन्य ताकत का प्रदर्शन करते हुए चीन ने अपने एकमात्र ऑपरेशनल एयरक्राफ्ट कैरियर को नौसैनिक ड्रिल के दौरान दक्षिण चीन सागर में उतारा है। उसके साथ दर्जनों दूसरे युद्धपोत भी थे।

प्लानेट लैब इंक की सैटलाइट तस्वीरों से पता चलता है कि लियाओनिंग एयरक्राफ्ट कैरियर नौसैनिक अभ्यास के दौरान बीच में था और दक्षिणी चीन के हैनान प्रांत में 40 दूसरे जहाजों के बीच में खड़ा है।

चीन के रक्षा मंत्रालय ने इसकी पुष्टि करने से इनकार कर दिया है कि लियाओनिंग एयरक्राफ्ट करियर इस अभ्यास में हिस्सा लिया था या नहीं लेकिन मिलिटरी विशेषज्ञों का कहना है कि उसे पहचाना जा सकता है।

सिंगापुर के नान्यांग टेक्नॉलजिकल यूनिवर्सिटी के सैन्य विशेषज्ञ जेम्स चार ने कहा, 'इस नौसैनिक अभ्यास में 6 पनडुब्बियों और दो जे-15 फाइटर जेट्स ने भी इस नोसैनिक परेड में हिस्सा लिया।'

और पढ़ें: राहुल का तंज, कहा- पीएम मोदी अगली किताब एग्ज़ाम वॉरियर्स 2 लिखें

चार ने कहा, 'इस तरह का फॉर्मेशन विजुअल प्रदर्शन है, लियाओनिंग एयरक्राफ्ट करियर पीपल्स लिबरेशन आर्मी (चीन की सेना) के लिए स्टेटस सिंबल है।'

उन्होंने कहा, 'असली जंगी हालात में इस तरह का फॉर्मेशन युद्ध की स्थिति में नहीं बनाी जा सकती है। मुझे इस बात से कोई अचरज नहीं है कि वो ऐसा फॉर्मेशन सिर्फ सैटेलाइट इमेज बनाने के लिये किया हो।'

इस ताकत को ऐसे समय में दिखाया गया है जब कुछ दिन पहले ही ताइवान ने कहा था कि उसने 20 मार्च को लियाओनिंग और दूसरे युद्धपोत ताइवान स्ट्रेट से 20 मार्च को होकर गुजरे हैं। ठीक उसी दिन चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने चीन को बांटने की किसी भी कोशिश के खिलाफ चेतावनी भी दी थी।

चीन साउथ चाइना सी पर अपना दावा करता है और वहां के रीफ को परिवर्तित कर उसे सैन्य अड्डे की तरह इस्तेमाल कर रहा है।

ब्रूनेई, मलेशिया, फिलिपींस, वियतनाम और ताइवान साउथ चाइना सी पर अपना दावा करते हैं और अमेरिकी नौसैनिक बेड़े 'फ्रीडम ऑफ नेविगेशन' के तहत चीनी द्वीपों के पास ऑपरेशंस करते रहते हैं।

चार ने कहा, 'हम समझ सकते हैं कि चीनी नौसैनिक बेड़ों की साउथ चाइना सी में पहले के मुकाबले अब ज्यादा नियमित उपस्थिति दिख रही है अमेरिका और दूसरे देशों के पेट्रोलिंग इस दौरान बढ़ी है।'

मिडलबरी इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज़ के जैफरी लुई ने कहा ये एक बड़ा अभ्यास था। उन्होंने कहा, '... संभवतः ये किसी स्थान पर जा रहे थे।'

प्लानेट लैब्स के एक और तस्वीर में भी लियाओनिंग दक्षिणी हैनान द्वीप में स्थित यूलिन नवल बेस के पास दिख रहा है लेकिन इसमें उसके आस-पास दूसरे जहाज नहीं दिख रहा है।

और पढ़ें: SC/ST एक्टः SC के फैसले के खिलाफ केंद्र दायर करेगी पुनर्विचार याचिका

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 30 Mar 2018, 06:38:33 PM