News Nation Logo
Banner

नेपाल में चीन की तीन कंपनियों पर रोक, नियमों के उल्लंघन पर बड़ी कार्रवाई 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार एशियाई विकास बैंक (ADB) ने चीन की तीन बड़ी निर्माण कंपनियों को नेपाल के प्रमुख हवाई अड्डे के कंस्ट्रक्शन में भाग लेने से रोक दिया है। 

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 23 Dec 2021, 08:36:15 AM
china

नेपाल में चीन की तीन कंपनियों पर लगाई रोक (Photo Credit: file photo)

highlights

  • एशियाई विकास बैंक (ADB) ने चीन की तीन बड़ी निर्माण कंपनियों पर लगाई रोक
  • इन कंपिनयों को गाइडलाइंस का पालन न करने के मामले में ब्लैक लिस्ट किया गया है.

काठमांडू:  

चीन लगातार अपनी विस्तारवादी नीति पर चल रहा है. वह अपने पड़ोसी देशों में भारी निवेश कर उस पर काबू करने की कोशिश में लगा है. मगर अब चीन की चालबाजियों को लेकर कई देश सतर्क हो गए हैं. इस बीच नेपाल में चल रहे निर्माणकार्यों को लेकर चीन को करारा झटका लगा है.  एशियाई विकास बैंक ने चीन की निर्माण फर्मों के खिलाफ बड़ा कदम उठाया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार एशियाई विकास बैंक (ADB) ने चीन की तीन बड़ी निर्माण कंपनियों को नेपाल के प्रमुख हवाई अड्डे के कंस्ट्रक्शन में भाग लेने से रोक दिया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मनीला स्थित बहुपक्षीय वित्त पोषण एजेंसी के भ्रष्टाचार विरोधी कार्यालय ने चीन की तीन राज्य समर्थित कंपनियों को अखंडता के नियमों का उल्लंघन करने की सजा दी है.  गौरतलब है कि अब तक भारतीय निमार्ण कार्यों को लेकर नेपाल ज्यादा आश्वस्त रहा है. नेपाल में 2015 में आए भूकंप के बाद भारतीय कंपनियों ने यहां के कंस्ट्रक्शन में भारी योगदान दिया है. 

दो कंपनियों को ब्लैकलिस्ट की सूची में डाला 

इन तीन प्रतिबंधित कंपनियों में सीएमसी इंजीनियरिंग कंपनी, नार्थवेस्ट सिविल एविएशन एयरपोर्ट कंस्ट्रक्शन ग्रुप और चाइना हार्बर इंजीनियरिंग कंपनी शामिल हैं. लगभग 24 कंपनियों ने काठमांडू में त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा की विकास परियोजना में 10 अरब नेपाली रुपये की बोली लगाकर दस्तावेज खरीदे थे. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बोली लगाने वाली 24 कंपनियों में सिर्फ चार चीनी कंपनियों ने ही अपने दस्तावेज सौंपे थे. नेपाल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने उच्च अधिकारी का हवाला देते हुए बताया कि चार कंपनियों में से दो कंपिनयों को एशियाई विकास बैंक ने ब्लैक लिस्ट किया है.

एशियाई विकास बैंक ने किया प्रतिबंधित

नेपाल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के अधिकारी के अनुसार इन कंपिनयों को एशियाई विकास बैंक की गाइडलाइंस का पालन न करने के मामले में ब्लैक लिस्ट किया गया है. साथ ही एशियाई विकास बैंक की ओर से वित्तीय सहायक परियोजनाओं के तहत प्रतिबंधित सूची में भी डाला गया है. नेपाल की सरकारी खरीद के विशेषज्ञ ने बताया कि  कंपिनयों को केवल एशियाई विकास बैंक की वित्तीय सहायक परियोजनाओं के लिए ही ब्लैक लिस्ट किया गया है.

अखंडता नियम सबके लिए एक समान

अधिकारियों के अनुसार सभी कंपनियां जिन परियोजनाओं पर काम का रही हैं. उन पर यह कार्रवाई लागू नहीं होगी. अगर एशियाई विकास बैंक इन कंपनियों के बुरे काम और उन्हें प्रतिबंधित करने के बारे में नेपाल की पब्लिक खरीद निगरानी कार्यालय को सूचित करता है, तो नेपाल के लिए इन कंपनियों को ब्लैक लिस्ट करना आसान हो जाएगा. अधिकारियों के अनुसार एशियाई विकास बैंक की सभी परियोजनाओं के लिए अखंडता के नियम एक समान हैं.

First Published : 23 Dec 2021, 08:31:37 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.