News Nation Logo

अक्टूबर में दस्तक दे सकता है कोरोना से लड़ने का एक और हथियार

कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका के बीच अब देश में एक और कोविड 19 से लड़ने का हथियार तैयार किया जा रहा है. केंद्र सरकार और Zydus Cadila इस हफ्ते दुनिया की पहली कोविड रोधी डीएनए वैक्सीन ZyCoV-D की कीमत तय कर सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nandini Shukla | Updated on: 29 Sep 2021, 09:10:00 AM
Zydus cadila 1 1

अक्टूबर में दस्तक दे सकता है कोरोना से लड़ने का एक और हथियार (Photo Credit: file photo)

highlights

  • कोविड-19 से लड़ने का हथियार तैयार किया जा रहा है.
  • टीके की प्रभावशीलता 66 प्रतिशत है.
  • जायकोव-डी एक प्‍लाज्मिड डीएनए टीका है.

New Delhi:

कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका के बीच अब देश में एक और कोविड-19 से लड़ने का हथियार तैयार किया जा रहा है. केंद्र सरकार और Zydus Cadila इस हफ्ते दुनिया की पहली कोविड रोधी डीएनए वैक्सीन ZyCoV-D की कीमत तय कर सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 2 अक्टूबर यानी गांधी जयंती के मौके पर वैक्सीन को लॉन्च किया जा सकता है. भारत के औषध महानियंत्रक ने पिछले महीने जायडस कैडिला के स्वदेशी तौर पर विकसित सुई-मुक्त कोविड-19 टीके जायकोव-डी को आपातकालीन उपयोग प्राधिकार (ईयूए) दिया है, जिसे देश में 12-18 वर्ष के आयु वर्ग के लाभार्थियों को दिया जाना है. 

यह भी पढ़े- एक और उपलब्धि, हर 4 में से एक भारतीय का टीकाकरण पूरा

ZyCoV-D क्या है ?

जायकोव-डी एक प्‍लाज्मिड डीएनए टीका है. प्‍लाज्मिड इंसानों में पाए जाने वाले डीएनए का एक छोटा हिस्‍सा होता है. ये टीका इंसानी शरीर में कोशिकाओं की मदद से कोरोना वायरस का ‘स्‍पाइक प्रोटीन’ तैयार करता है, जिससे शरीर को कोरोना वायरस के अहम हिस्‍से की पहचान करने में मदद मिलती है. इस प्रकार शरीर में इस वायरस का प्रतिरोधी तंत्र तैयार किया जाता है. बता दें की टीके की प्रभावशीलता 66 प्रतिशत है. ZYCOV-D तीन डोज वाली वैक्सीन है, इसकी दूसरी डोज, पहली डोज लगने के 28वें और तीसरी डोज 56वें दिन लगती है.

वैक्सीन को वयस्कों और 12 वर्ष से अधिक के किशोरों के लिए मंजूरी मिल गई है. जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) का कहना है कि ZYCOV-D डीएनए आधारित कोरोना वायरस रोधी दुनिया का पहला टीका है. बीते दिनों नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वी के पॉल ने कहा कि जायडस कैडिला के डीएनए टीके को व्यावहारिक स्वरूप और कार्य  में लाने के लिए तैयारी चल रही है और इसके लिए कई दौर की भी चर्चा हुई है.

यह भी पढ़े- पंजाब में सियासी सरगर्मी के बीच अरविंद केजरीवाल का दौरा, कर सकते हैं कई बड़े ऐलान

उन्होंने कहा था, ‘कीमत भी एक स्पष्ट मुद्दा है. बातचीत चल रही है और जल्द ही एक निर्णय लिया जाएगा. पूरी तैयारी के साथ इससे टीकाकरण का हिस्सा बनाया जायेगा. हम लाभार्थियों या लक्षित समूह, जिन्हें टीका दिया जाना है, को लेकर एनटीएजीआई की सिफारिशें प्राप्त करने के लिए उत्सुक हैं. काम प्रगति पर है और आने वाले समय में आप इसके बारे में और अधिक सुनेंगे.’

First Published : 29 Sep 2021, 09:10:00 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.