News Nation Logo

भारत से तनाव के बीच शी ने सेना को युद्ध लिए तैयार रहने का आदेश दिया

लद्दाख में हिंसक झड़प के बाद शी ने संभवतः दूसरी बार अपनी सेना को युद्ध के लिए तैयार रहने का आदेश दिया है. 

By : Nihar Saxena | Updated on: 26 Nov 2020, 08:31:46 AM
Xi Jinping

अमेरिका के बराबर सेना करने का ख्वाब पाले हैं जिनपिंग. (Photo Credit: न्यूज नेशन.)

बीजिंग:

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सशस्त्र बलों को वास्तविक युद्ध की परिस्थितियों में प्रशिक्षण को मजबूत करने और युद्ध जीतने की अपनी क्षमता बढ़ाने का आदेश दिया है. सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) को 2027 तक अमेरिकी सेना के बराबर क्षमता की बनाने की योजना बनाई है. शी ने कहा कि सेना को युद्ध जीतने के स्तर वाले प्रशिक्षण पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए. लद्दाख में हिंसक झड़प के बाद शी ने संभवतः दूसरी बार अपनी सेना को युद्ध के लिए तैयार रहने का आदेश दिया है. 

हाल ही में शी ने इस बात पर जोर दिया था कि अगर पीएलए खुद को अन्य अग्रणी शक्तियों की बराबरी में पहुंचने के लिए एक आधुनिक युद्धक शक्ति में बदलना चाहती है तो उसे आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस जैसी अत्याधुनिक तकनीकों को अपनाना चाहिए. सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) का नेतृत्व करने और लंबे समय से राष्ट्रपति के पद पर विराजमान 67 वर्षीय शी, सेंट्रल मिलिट्री कमीशन (सीएमसी) के अध्यक्ष भी हैं, जो देश के 20 लाख सैनिकों की क्षमता वाली सेना का सर्वोच्च कमान है.

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, सीएमसी की बैठक में शी ने नए दौर के लिए सेना को मजबूत करने के साथ-साथ सैन्य रणनीति पर पार्टी की सोच को लागू करने पर जोर दिया. शी के बयान ऐसे समय में आये हैं जब छह महीने से अधिक समय से पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन के बीच सीमा पर गतिरोध की स्थिति है. हालांकि मई से जारी गतिरोध के बीच कूटनीतिक और सैन्य स्तर की बातचीत  जारी है.

First Published : 26 Nov 2020, 08:31:46 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.