News Nation Logo
Banner

ईरान ने अमेरिका से किसी भी तरह की बातचीत से किया इन्कार, डोनाल्ड ट्रंप के सामने रखी ये शर्त

ईरान के उप-विदेश मंत्री अब्बास अराकची ने तेहरान और वाशिंगटन के बीच किसी भी तरह की बातचीत की संभावना से इनकार कर दिया.

आईएएनएस | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 29 Aug 2019, 08:21:00 PM
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:  

ईरान के उप-विदेश मंत्री अब्बास अराकची ने तेहरान और वाशिंगटन के बीच तब तक किसी भी तरह की बातचीत की संभावना से इनकार कर दिया जब तक कि अमेरिका, ईरान के साथ 2015 में हुए परमाणु करार पर वापस नहीं लौटता. प्रेस टीवी ने गुरुवार को यह जानकारी दी. इस समझौते को ज्वाइंट कॉम्प्रिहेंसिव प्लान ऑफ एक्शन (जीसीपीओए) के नाम से भी जाना जाता है.

यह भी पढ़ेंःतनाव बढ़ने के बावजूद भारत-पाकिस्तान अधिकारी आज करेंगे बात, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

अराकची ने बुधवार को कहा, कोई भी देश अधिकतम दबाव के बीच वार्ता को कभी स्वीकर नहीं करेगा, क्योंकि ऐसा करना आत्मसमर्पण करने जैसा होगा. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, अराकची ने कहा कि अमेरिका के साथ बातचीत जीसीपीओए के ढांचे के भीतर ही होगी, वह भी तब जब अमेरिका, ईरान के खिलाफ अपने सभी प्रतिबंधों को हटा देगा.

ताकतवर देशों के साथ परमाणु बातचीत में ईरान का प्रतिनिधित्व करने वाले मंत्री ने यूरोप के देशों को चेताते हुए कहा कि यदि वे परमाणु समझौते के अंतर्गत ईरान के हितों को सुरक्षित करने वाले अपने वादों को नहीं निभाएंगे, तो ईरान अपने जीसीपीओए दायित्वों को और कम करने के लिए कदम उठाएगा. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले साल वाशिंगटन को समझौते से बाहर कर दिया था और तेहरान पर एक बार फिर से प्रतिबंध लगा दिए थे.

यह भी पढ़ेंःपाकिस्तानी मंत्री ने अब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर लगाया ये गंभीर आरोप

इसके जवाब में ईरान ने अपने जीसीपीओए दायित्वों को कम करने के लिए कदम उठाना शुरू कर दिया और इसी कड़ी में कहा कि यदि यूरोपिय देश परमाणु समझौते के अंतर्गत ईरान के हितों को सुरक्षित करने वाले अपने वादों को नहीं निभाएंगे, तो ईरान इसी तरह समझौते से हटकर कदम उठाएगा.

First Published : 29 Aug 2019, 08:20:43 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.