News Nation Logo
अनन्या पांडे से सोमवार को फिर पूछताछ करेगी NCB अभिनेत्री अनन्या पांडे एनसीबी कार्यालय से रवाना हुईं, करीब 4 घंटे चली पूछताछ DRDO ने ओडिशा के चांदीपुर रेंज से हाई-स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट (HEAT) का सफल परीक्षण किया कल जम्मू-कश्मीर जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक 27 अक्टूबर को, छठ पूजा उत्सव के लिए ली जाएगी अनुमति 1971 के भारत-पाक युद्ध ने दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के भूगोल को बदल दिया: सीडीएस जनरल बिपिन रावत माता वैष्णों देवी मंदिर में तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना का प्रसार रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी दिल्ली जा रही फ्लाइट में एक आदमी की अचानक तबीयत ख़राब होने पर फ्लाइट की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग 1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक

अफगानिस्तान की मस्जिद में नमाज के वक्त हुआ धमाका, 100 लोगों की मौत, कई घायल

अफगानिस्तान में तालिबान राज आने के बाद से स्थितियां बदतर होती जा रही है। यहां तालिबान विरोधी आतंकी संगठन सक्रिय हो गए हैं। शुक्रवार को शिया मुस्लिमों को निशाना बनाकर एक ​मस्जिद पर हमला किया गया. इसमें करीब 100 लोगों की मौत और कई लोग घायल हो गए.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 09 Oct 2021, 09:10:58 AM
afghanistan mosque

अफगानिस्तान की मस्जिद में नमाज के वक्त हुआ धमाका. (Photo Credit: agency)

highlights

  • अफगानिस्तान के उत्तरी कुंदुज प्रांत में सैयद अबाद मस्जिद में हुआ धमाका.
  • आतंकी घटना की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट खुरासान ने ली है.
  • आत्मघाती हमलावर की पहचान एक उइगर मुस्लिम के तौर हुई है.

तेहरान:

अफगानिस्तान में तालिबान राज आने के बाद से स्थितियां बदतर होती जा रही है। यहां तालिबान विरोधी आतंकी संगठन सक्रिय हो गए हैं। शुक्रवार को शिया मुस्लिमों को निशाना बनाकर एक मस्जिद पर हमला किया गया. इसमें करीब 100 लोगों की मौत और कई लोग घायल हो गए. इस आतंकी घटना की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट खुरासान ने ली है. इसे ISIS-K के नाम से जाना जाता है. इससे पहले 26 अगस्त को काबुल एयरपोर्ट पर हुए आत्मघाती हमले में इसकी आतंकी संगठन ने सबसे घातक हमला किया था। इसमें लगभग 170 नागरिक और 13 अमेरिकी सैनिक मारे गए थे.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, शुक्रवार का विस्फोट अफगानिस्तान के उत्तरी कुंदुज प्रांत में सैयद अबाद मस्जिद में उस समय हुआ, जब यहां के स्थानीय लोग नमाज के लिए मस्जिद में शामिल हुए. इस धमाके में अब तक 100 से ज्यादा लोग अपनी जान गवां चुके हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चश्मदीद के हवाले से बात सामने आई है कि मस्जिद में हुए विस्फोट में 100 से अधिक लोग मारे गए और करीब 20 लोग घायल हो गए.

व्यापक संघर्ष की आशंका बढ़ चुकी है

गौरतलब है कि 15 अगस्त को अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से आईएसआईएस के लड़ाके ज्यादा सक्रिय हो गए हैं. आतंकवादी हमलों में बढ़ोतरी ने दोनों समूहों के बीच व्यापक संघर्ष की आशंका बढ़ चुकी है. इससे पहले रविवार को काबुल की एक मस्जिद में बम धमाकों में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं 32 अन्य घायल हो गए थे. घटना काबुल की ईदगाह मस्जिद के भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में हुई थी.  

आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने मस्जिद में हुए बम धमाके की जिम्मेदारी ली है. बताया जा रहा है कि आत्मघाती हमलावर की पहचान एक उइगर मुस्लिम के तौर हुई है. हमले में शियाओं और तालिबान दोनों को निशाना बनाया गया. 

इस्लामिक स्टेट समूह के आतंकियों का अफगानिस्तान के शिया मुस्लिम अल्संख्यकों पर हमला करने का लंबा इतिहास रहा है. शुक्रवार को जिनको निशाना बनाया गया,वे हजारा समुदाय से हैं.  यह हमला अमरीका और नाटो सैनिकों पर अगस्त हुए हमले के बाद सबसे भीषण हमला है.

First Published : 09 Oct 2021, 09:06:59 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो