News Nation Logo

बांग्लादेश में भी हुआ दिल्ली की निर्भया जैसा कांड, चलती बस में गैंगरेप

.चलती मिनीबस में एक महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में शनिवार को बांग्लादेश में छह संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया और उन्हें अदालत में पेश किया गया. पुलिस ने बताया कि घटना शुक्रवार रात करीब 11.30 बजे सावर के ढाका के अशुलिया इलाके में हुई

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 29 May 2021, 07:44:50 PM
Imaginative Pic

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल )

highlights

  • बांग्लादेश के इस गैंगरेप ने दिलाई निर्भया की याद
  • 2012 में दिल्ली में भी हुआ था चलती बस में दुष्कर्म
  • दुष्कर्म करने वाले 6 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली:

चलती मिनीबस में एक महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में शनिवार को बांग्लादेश में छह संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया और उन्हें अदालत में पेश किया गया. पुलिस ने बताया कि घटना शुक्रवार रात करीब 11.30 बजे सावर के ढाका के अशुलिया इलाके में हुई और मामला दर्ज कर लिया गया है. पीड़िता को इलाज के लिए ढाका मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा गया है. संदिग्धों की पहचान आर्यन, 18, शाजू, 20, सुमन मिया, 24, मोनोवर, 24, शोहाग, 25 और सैफुल इस्लाम, 40 के रूप में हुई है. 
मामले के बयान में कहा गया है कि पीड़िता शुक्रवार को मानिकगंज में अपनी बहन से मिलने गई थी.

नारायणगंज में अपने घर लौटने के लिए शाम करीब साढ़े छह बजे उसने मानिकगंज से बस ली. दूसरी बस पकड़ने के लिए पीड़िता रात करीब आठ बजे नबीनगर बस स्टैंड पर पहुंची. जैसे ही वह एक और सार्वजनिक परिवहन का इंतजार कर रही थी, सुमन द्वारा संचालित एक नई ग्राम बांग्ला बस, जिसे मोनोवर और सैफुल द्वारा सहायता प्राप्त थी वहां आ गई. उन्होंने कहा कि वे टोंगी स्टेशन रोड की यात्रा के लिए 35 रुपये चार्ज करेंगे. सभी यात्रियों को गंतव्य पर पहुंचने से पहले उतार दिया गया.

यह भी पढ़ेंःरेलवे पटरी के पास नाबालिग लड़की का शव बरामद, दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका

चालक ने बस ली और फिर से सावर नबीनगर के लिए रवाना हो गया और बस की खिड़कियां और दरवाजे बंद कर दिए. चलती बस में चालक व उसके सहायक समेत छह लोगों ने महिला से दुष्कर्म किया. पुलिस की एक गश्ती टीम ने बस को रोकने के लिए कहा, और उन्होंने इसे संदिग्ध पाया. बस उन्हें अशुलिया पुल क्षेत्र में सी एंड बी बाईपास पर पार कर गई. पुलिस ने बस का पीछा किया और जहांगीरनगर विश्वविद्यालय को पार कर बस को रोक लिया. 

यह भी पढ़ेंःभरतपुर में डॉक्टर दंपति की हत्या का खुला राज, इस वजह से गोलियों से भूना

पुलिस ने कहा कि अशुलिया पुल क्षेत्र में पहुंचते ही चालक ने बस की दिशा बदल दी. चेकपोस्ट पुलिस ने बस को रोकने को कहा और पीड़िता को छुड़ाया. एक पुलिस अधिकारी ने मीडिया से बातचीत में बताया, पीड़िता ने कहा कि बस में छह लोगों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. अशुलिया पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर जियाउल इस्लाम ने शनिवार दोपहर आईएएनएस को बताया कि शुक्रवार को उसके बचाए जाने के बाद, पुलिस ने रात 1 बजे छह लोगों को हिरासत में लिया.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 29 May 2021, 07:36:48 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो