News Nation Logo
Banner

अमेरिका में 24 घंटे में कोरोना संक्रमण ने ली 100 से अधिक लोगों की जान

अमेरिका (America) में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस (Corona Virus) से सौ से अधिक लोगों की मौत हुई है. इसके साथ ही देश में इस बीमारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 389 हो गयी है.

By : Nihar Saxena | Updated on: 23 Mar 2020, 07:42:23 AM
America Shutdown Corona Virus

अमेरिका में कई राज्यों और शहरों में लॉकडाउन. (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

highlights

  • अमेरिका में इस बीमारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 389.
  • कोविड 19 के सबसे अधिक मामले न्यूयार्क में ही सामने आए हैं.
  • 10 दिन बाद वेंटिलेटर, सर्जिकल मास्क और उन चीजों की कमी.

वाशिंगटन:

अमेरिका (America) में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस (Corona Virus) से सौ से अधिक लोगों की मौत हुई है. इसके साथ ही देश में इस बीमारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 389 हो गयी है. जॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय ने यह आंकड़ा जारी किया. अब तक सबसे अधिक न्यूयार्क (114 मौतें), वाशिंगटन (94मौतें) और कैलीफोर्निया (28मौतें) प्रांत प्रभावित हुए हैं. अमेरिका में कम से कम 30 हजार लोग इस विषाणु से संक्रमित हुए हैं. अमेरिका में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच न्यूयार्क में आगामी कुछ दिनों में अस्पताल (Hospitals) में मरीजों के उपचार के लिए आवश्यक उपकरणों की कमी होने की आशंका है. इसके साथ ही कोरोना वायरस से हो रहे आर्थिक नुकसान को कम करने के लिये कांग्रेस और राष्ट्रपति कार्यालय के बीच एक हजार अरब डॉलर के राहत पैकेज को अंतिम रूप देने पर उच्चस्तरीय बातचीत चल रही है.

यह भी पढ़ेंः कोरोना की संख्या हो सकती है भयावह, अभी सिर्फ एक दिन में 10 हजार मरीजों की जांच संभव!

न्यूयार्क में हो जाएगी वेंटिलेटर की कमी
अमेरिका में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच न्यूयार्क में आगामी कुछ दिनों में अस्पताल में मरीजों के उपचार के लिए आवश्यक उपकरणों की कमी होने की आशंका है. मेयर बिल डी ब्लासियो ने कहा कि अमेरिका में कोविड 19 के सबसे अधिक मामले न्यूयार्क में ही सामने आए हैं. उन्होंने साफतौर पर कहा कि 10 दिन बाद वेंटिलेटर, सर्जिकल मास्क और उन चीजों की कमी हो जाएगी जो अस्पताल प्रणाली को चलाने के लिए आवश्यक हैं. उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से अपील की कि वह तत्काल आवश्यक चिकित्सकीय आपूर्ति के वितरण एवं उत्पादन को बढ़ाने के काम में सेना को लगाएं. डी ब्लासियो ने कहा, 'यदि हमें आगामी 10 दिन में और वेंटिलेटर नहीं मिले तो लोग मारे जाएंगे.' उन्होंने सचेत किया कि अभी 'और बुरा समय आने वाला' हैं और उन्होंने इस महामारी को 1930 की महामंदी के बाद का सबसे बड़ा घरेलू संकट करार दिया.

यह भी पढ़ेंः जनता कर्फ्यू रहा सफल, कई राज्यों में लॉकडाउन; मोदी ने किया कोरोना से जंग का ऐलान | देखें Updates

एक हजार अरब डॉलर के राहत पैकेज को जल्द मंजूरी
इस बीच कोरोना वायरस से हो रही आर्थिक क्षति को कम करने के लिये कांग्रेस और राष्ट्रपति कार्यालय के बीच एक हजार अरब डॉलर के राहत पैकेज को अंतिम रूप देने पर उच्चस्तरीय बातचीत चल रही है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी इस महामारी की स्थिति में एक समझौते पर पहुंचने का आग्रह किया है. बातचीत में अस्पतालों के लिये तथाकथित मार्शल योजना तथा कोरोना वायरस के संक्रमण व राष्ट्रीय तालाबंदी के कारण बंद उद्योगों के लिये औद्योगिक ऋण को लेकर भी समझौते के करीब पहुंचा जा चुका है. द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद मार्शल योजना ने पश्चिमी यूरोप को नये सिरे से निर्माण करने में मदद की थी. अधिकारियों का मानना है कि राहत पैकेज करीब 1,400 अरब डॉलर का हो सकता है. इसके साथ ही फेडरल रिजर्व के उपायों की मदद से बाजार में कुल दो हजार अरब डॉलर तक झोंका जा सकता है.

First Published : 23 Mar 2020, 07:42:23 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.