News Nation Logo
Banner

Video: चंद्रयान 2 का मजाक उड़ाने वाले फवाद चौधरी, सीखो पाकिस्‍तान के इस बेटे से

पाकिस्‍तान के इस ब्‍लॉगर आतिफ का Video नहीं देखा और इनको नहीं सुना तो कुछ भी नहीं सुना..

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 09 Sep 2019, 01:46:34 PM

नई दिल्‍ली:

चंद्रयान 2 की सॉफ्ट लैंडिंग के दौरान लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने के बाद जिस पाकिस्‍तान में ट्वीटर पर #IndiaFail ट्रेंड हुआ उसी पाकिस्‍तान का एक शख्‍स आज उन तमाम पाकिस्‍तानियों को आईना दिखा रहा है. अपने तर्कों से ब्‍लॉगर आतिफ ने इसरो के मिशन मून को जमकर सराहा. उन्‍होंने पाकिस्‍तान के मंत्री फवाद चौधरी को भी आड़े हाथों लिया. बता दें भारत का बहुप्रतीक्षित मिशन चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) से आखिरी वक्‍त में इसरो से संपर्क टूट गया. तब चंद्रयान 2 का विक्रम लैंडर चांद की सतह से केवल 2.1 किलोमीटर दूर था. इस बारे में पाकिस्‍तान इस ब्‍लॉगर आतिफ की टिप्‍पणी सुनें.. 

बता दें चंद्रयान 2 से संपर्क टूटने पर पाकिस्‍तान से तमाम प्रतिक्रियाएं आने लगीं. यहां तक कि पाकिस्तान के विज्ञान और तकनीकी मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने टि्वटर पर बेहूदा टिप्‍पणी कर दी. फवाद ने ट्वीट किया, '.... जो काम आता नहीं पंगा नहीं लेते ना.... डियर “एंडिया”. फवाद ने मिशन एंड होने के चलते इंडिया को “एंडिया” लिखा था. फवाद ने यह भी नहीं सोचा कि भारत का लैंडर तो वहां पहुंच भी गया, पाकिस्‍तान तो दाल-रोटी की चिंता से ऊपर ही नहीं उठ रहा है. इसके बाद तो फवाद ट्रोल हो गए.

 Video के लिए यहां Click करें

अब शायद फवाद चौधरी को यह जानकर कई रातों की नींद नहीं आएगी कि इसरो ने विक्रम का पता लगा लिया है. चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) से निकलकर मंजिल के करीब भटक गए लैंडर विक्रम (Lander Vikram) की लोकेशन का पता चलना 130 करोड़ भारतीयों के लिए उम्‍मीद की किरण नहीं बल्‍कि आशाओं का सूरज है. हालांकि उसकी केवल थर्मल तस्‍वीर मिली है और संपर्क स्‍थापित नहीं हुआ है. एक अनुमान के मुताबिक इसरो के पास विक्रम से संपर्क साधने के लिए 12 दिन हैं. मिशन मून को लेकर भारत की उम्‍मीदें अभी बरकरार हैं. बता दें मंजिल से केवल 2.1 किलोमीटर पहले भटक जाने वाले लैंडर विक्रम (Lander Vikram) के बारे में एक बड़ी खबर खुद इसरो चीफ ने दी है, जिसको लेकर हर भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा हो जाएगा.

न्‍यूज एजेंसी एएनआई से इसरो प्रमुख के. सिवन ने बताया कि हमें विक्रम लैंडर के बारे में पता चला है, वह चांद की सतह पर देखा गया है. ऑर्बिटर ने लैंडर की एक थर्मल पिक्चर ली है. लेकिन अभी तक कोई संचार स्थापित नहीं हो पाया है. हम संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः ISRO चीफ के. सिवन की आस्‍था पर चोट करने वालों के लिए ही है ये खबर

वहीं सूत्र बताते हैं कि लैंडर विक्रम (Lander Vikram) चंद्रमा की सतह पर 180 डिग्री तक गिर गया है, इसका मतलब है कि सतह पर केवल दो पैर छू रहे हैं, ऑर्बिटर ने लैंडर विक्रम (Lander Vikram) की तस्वीरें क्लिक की हैं, जिनका विश्लेषण किया जा रहा है लेकिन कोई संचार स्थापित नहीं किया गया है. विक्रम लैंडर लैंडिंग वाली तय जगह से 500 मीटर दूर पड़ा है. चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर में लगे ऑप्टिकल हाई रिजोल्यूशन कैमरा ने विक्रम लैंडर की तस्वीर ली है.

 

First Published : 08 Sep 2019, 09:29:15 PM

For all the Latest Viral News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो