News Nation Logo
Banner

युवक ने मांगी नौकरी तो कंपनी ने कहा- जाओ शाहीन बाग में जाकर प्रदर्शन करो, होगी कमाई

केरल के रहने वाले 23 वर्षीय युवक अब्दुल्ला एसएस ने जब दुबई की एक कंपनी में जॉब अप्लाई किया तो उसे ये कहा गया कि वो नौकरी की जगह शाहीन बाग में प्रदर्शन करें.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 27 Jan 2020, 10:53:57 AM
Shaheen Bagh Protest

Shaheen Bagh Protest (Photo Credit: (सांकेतिक चित्र))

नई दिल्ली:

दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन बिल (NRC) के खिलाफ चल रहे विरोध-प्रदर्शन को लेकर एक बेहद ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है. दरअसल, केरल के रहने वाले 23 वर्षीय युवक अब्दुल्ला एसएस ने जब दुबई की एक कंपनी में जॉब अप्लाई किया तो उसे ये कहा गया कि वो नौकरी की जगह शाहीन बाग में प्रदर्शन करें. युवक ने कंपनी के इस हैरान कर देने वाले मेल को सोशल मीडिया पर भी पोस्ट किया है, जो कि अब काफी वायरल हो रहा है. 

ये भी पढ़ें: CAA प्रदर्शन पर रवि किशन बोले, कांग्रेस 500-500 रुपये में प्रदर्शन के लिए महिलाएं ला रही है

बताया जा रहा है कि अब्दुल ने दुबई की इस कंपनी में मैकेनिकल इंजीनियर पोस्ट के लिए अप्लाई किया था. वहीं दुबई के एक अखबार के मुताबिक, कंपनी कंसल्टेंसी फर्म के सीनियर अधिकारी जयंत गोखले ने ईमेल करते हुए लिखा, 'मैं सोच रहा था कि आपको नौकरी की क्या जरूरत है? दिल्ली जाओ और वहां शाहीन बाग में चल रहे धरने में शामिल हो जाओ. हर दिन आपको मुफ्त में एक हज़ार रुपये मिलेंगे. इसके अलावा मुफ्त में बिरयानी. चाय, खाना और मिठाइयां भी मिलेंगी.'

दूसरी तरफ इस मेल के वायरल होने के बाद गोखले ने सफाई देते हुए कहा कि वो बीमार हैं और उसके मेल को लोग जबरदस्ती का मुद्दा बना रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस मेल के जरिये उनका मकसद किसी को ठेस पहुंचाना नहीं था, 'मैंने अबदुल्ला से पहले ही माफी मांग ली है'.

और पढ़ें: शाहीन बाग में लगे 'नो कैश नो पेटीएम' के पोस्टर, पैसे लेकर धरने में बैठने का जवाब

गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर जारी किए गए इस वीडियो में कहा गया था कि शाहीनबाग में धरना दे रहीं महिलाएं शिफ्ट के हिसाब से इस धरने में आती हैं. प्रत्येक शिफ्ट के लिए हर एक महिला को 500 रुपये का भुगतान किया जा रहा है. हन्हें रुपये कौन दे रहा है, न तो इसका खुलासा किया गया है और न ही इस वीडियो की सत्यता अभी साबित नहीं हो पाई. सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस वीडियो की चर्चा शाहीनबाग में भी होती रही. प्रदर्शन कर रहीं महिलाएं व उनके साथ मौजूद युवाओं ने इस वीडियो को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की थी.

First Published : 27 Jan 2020, 10:29:46 AM

For all the Latest Viral News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×