News Nation Logo

प्रदूषण की वजह से दिल्‍ली के इन ऐतिहासिक स्‍थानों का बदल गया नाम, जानें कुतुबमीनार को क्‍या कह रहे लोग

इसमें कोई स्‍पेलिंग मिस्‍टेक नहीं है. गैस चैंबर बनी दिल्‍ली (Pollution in Delhi) की इन ऐतिहासिक जगहों के बदले हुए नाम हैं जिन्‍हें सोशल मीडिया (Social Media) पर लोगों ने दिए हैं.

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 04 Nov 2019, 04:23:51 PM
स्‍मॉग की चारद में लिपटा कुतुबमीनार

स्‍मॉग की चारद में लिपटा कुतुबमीनार (Photo Credit: Twitter)

नई दिल्‍ली:

राजीव चोक, कुतुब बीमार, हौज खांसी, सफदरलंग, धूलचंद और मरियागंज. इसमें कोई स्‍पेलिंग मिस्‍टेक नहीं है. गैस चैंबर बनी दिल्‍ली (Pollution in Delhi)  की इन ऐतिहासिक जगहों के बदले हुए नाम हैं जिन्‍हें सोशल मीडिया (Social Media) पर लोगों ने दिए हैं. वह भी तब जब ऑड-ईवन लागू हो चुका है. राजधानी समेत पूरे एनसीआर में हेल्‍थ इमरजेंसी लागू है. बच्‍चे हों या बूढ़े, अमीर हो या गरीब, मास्‍क लगाकर भी सब हांफ रहे हैं. 

दरअसल प्रदूषण से दिल्‍ली के लोगों का बुरा हाल है. स्‍मॉग में घिरी हुई दिल्‍ली हांफ रही है. इसमें रहने वाले लोगों के फेफड़े हांफ रहे हैं. दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार और केंद्र की मोदी सरकार में प्रदूषण को लेकर रार जारी है. इन सबके बीच सुप्रीम कोर्ट ने भी सख्‍ती दिखाई है. शीर्ष कोर्ट को यहां तक कहना पड़ा कि हर साल ऐसा होता है. हर साल 10- 15 दिन ऐसे हालात बनते है.

यह भी पढ़ेंः प्रदूषण से जूझ रहा Delhi-NCR, चीन से सबक क्‍यों नहीं लेती सरकार

किसी भी सभ्य देश में इसकी इजाजत नहीं दी जा सकती . जीवन का अधिकार सबसे बड़ा अधिकार है. ऐसे हालात में तो जीना मुश्किल है. केंद्र और राज्य एक दूसरे पर आरोप लगाकर अपनी जिम्मेदारी से नहीं बच सकते. अब सीमा पार हो गई है. लोग प्रदूषण के चलते अपने घर में भी सुरक्षित नहीं है. जीवन का बेशकीमती वक़्त हम प्रदूषण के चलते हो रही समस्याओं में खो रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः Delhi-NCR की जहरीली हवा से बचना है तो आपके लिए सबसे सस्‍ता और टिकाऊ उपाय ये है

प्रदूषण को लेकर आम आदमी के अलावा जानी-मानी हस्तियों ने सोशल मीडिया (Social Media) पर भड़ास निकाल रहे हैं. दिल्‍ली की इस भयावह तस्‍वीर पर लोगों ने प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक को कोसने में कोई कसर नहीं छोड़ी. कहा कि इतने गंभीर मामले पर राजनीति नहीं होनी चाहिए.

यह भी पढ़ेंः दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को लेकर ऋषि कपूर ने उड़ाया मजाक, ट्वीट में लिखा- सांस फूले या हों आंखें नम...

प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा है कि 1952 में लंदन में भयंकर स्मॉग ने 12000 लोगों की जान ली थी. शहर जाम हो गया था, लाखों लोग बीमार पड़ गए थे. इतनी बड़ी त्रासदी के बाद वहाँ साफ हवा के लिए क़ानून पास हुआ. हम जैसे अपनी ज़िंदगी को बेहतर बनाने के लिए तमाम काम करते हैं. जीवन बीमा लेते हैं, कसरत करते हैं.

यह भी पढ़ेंः 

वहीं आज सुबह जब दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ऑड-ईवन लागू करने को लेकर एक ट्वीट किया कि नमस्ते दिल्ली! प्रदूषण कम करने के लिए आज से Odd Even शुरू हो रहा है. अपने लिए, अपने बच्चों की सेहत के लिए और अपने परिवार की साँसों के लिए Odd Even का ज़रूर पालन करें. कार शेयर करें. इस से दोस्ती बढ़ेगी, रिश्ते बनेंगे, पेट्रोल बचेगा और प्रदूषण भी कम होगा. दिल्ली फिर कर दिखायेगी

इसके बाद तो लोगों ने उन्‍हें आड़े हाथों लेना शुरू कर दिया. इस पोस्‍ट के बाद यूजर उन्‍हें ट्रोल करने लगे..

First Published : 04 Nov 2019, 03:32:36 PM

For all the Latest Viral News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.