News Nation Logo
Banner

Uttar pradesh: उन्नाव- डीएम के सामने टीचर नहीं पढ़ पाए अंग्रेजी की किताब, जानें फिर क्या हुआ

Updated : 29 November 2019, 01:12 PM

हाल ही में कोयंबटूर में सफाई कर्मी की भर्ती निकली. जिसमें हजारों इंजीनियरिंग की डिग्री वाले लोगों ने इसमें नौकरी के लिए आवेदन किया. देश में शिक्षा व्यवस्था का हाल ये है कि कॉलेजों से डिग्रियां तो बांटी जा रही हैं. लेकिन उन्हें कोई कंपनी नौकरी नहीं दे रही है. शिक्षा से जुड़ा एक और मामला उत्तर प्रदेश में देखने को मिला है. जहां सरकारी प्राइमरी शिक्षा की पोल खुली है. जिन अध्यापकों के सहारे गरीब लोग अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा पाने के लिए भेजते हैं. कई बार उन्हीं अध्यापकों को कुछ नहीं आता