News Nation Logo
Banner

सीता नवमी के दिन का जानें महत्व और अपनाएं ये पूजा विधि, पति की आयु होगी लंबी

Updated : 08 May 2022, 10:57 AM

देवी सीता (sita) का विवाह भगवान राम से हुआ था, जिनका जन्म भी चैत्र माह के शुक्ल पक्ष के दौरान नवमी तिथि को हुआ था. हिंदू कैलेंडर में सीता जयंती (sita jayanti) रामनवमी के एक महीने के बाद आती है. इसलिए, हर साल इस दिन जानकी नवमी, सीता नवमी (sita navami), सीता जयंती के रूप में मनाते हैं. इस बार 10 मई 2022, मंगलवार को वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि है. तो, चलिए आपको बताते हैं कि सीता नवमी का व्रत का महत्व और पूजा विधि क्या है.

#SitaNavami2022 #SitaNavami2022PujaVidhi #SitaNavami2022Significance #NewsNation