News Nation Logo
Banner

राम मंदिर पर तेज़ हुई सियासत, कांग्रेस के सामने VHP की चुनौती

Updated : 20 January 2019, 09:01 PM

लोकसभा चुनाव में कुछ ही महीने बाकी है. चुनावी मौसम में राम मंदिर को लेकर सियासत तेज़ हो गई है. विहिप के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कथित रूप से कहा कि कांग्रेस अगर अपने घोषणा-पत्र में राम मंदिर निर्माण को शामिल कर ले तो उनका संगठन कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में समर्थन देने पर विचार कर सकता है. इस बयान के बाद काफी बवाल मच गया. इससे पहले आरएसएस भी राम मंदिर के निर्माण को लेकर डेडलाइन दे चुकी है. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में विलंब पर नाराजगी जाहिर करते हुए आरएसएस महासचिव सुरेश 'भैयाजी' जोशी ने तीखी टिप्पणी की कि 'अब इसका (मंदिर) निर्माण 2025 में होगा. '

वीडियो