News Nation Logo
Banner

Khoj Khabar : शाहीन बाग को खाली न करना जिद नहीं तो और क्या है

Updated : 17 March 2020, 10:58 PM

सरकार कई बार यह कह चुकी है कि सीएए नागरिकता देने का कानून है न कि नागरिकता लेने का. लेकिन इसके बाद भी लोग सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं. अब फैसला सुप्रीम कोर्ट के हाथ में है कि वह बताए कि क्या यह कानून संवैधानिक है या नहीं. लेकिन दूसरी मुसीबत इस समय लोगों के सामने कोरोना एक मुसीबत है. पर शाहीन बाग के लोग अपना प्रदर्शन खत्म करने को तैयार नहीं है. अब यह जिद नहीं तो और क्या है? इसी मुद्दे पर देखिए बड़ी बहस दीपक चौरसिया के साथ.

×