News Nation Logo

किसी महिला के कपड़े फाड़ दिये जाते हैं तब ये लेटर लिखने वाले मौन धारण कर लेते हैं : विक्रम सिंह

Updated : 05 January 2021, 09:24 PM

कानून का विरोध बहाना, योगी पर निशाना ? लव अगर 'जिहाद' तो कानून का विरोध क्यों? इस पर पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह ने कहा, कानून की भावना बिलकुल सही है. ये कानून सभी धर्मों के लिए बराबर है, वो चाहे हिन्दू हो या मुसलमान. इस कानून के मुताबिक कोई भी अपराध करता है तो उसे सजा मिलेगी. जिन लोगों ने जान-बूझकर इस कानून का अतिक्रमण किया, उन्हें सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए. मैं उन 104 अफसरों से कहना चाहूंगा कि जब किसी महिला के कपड़े फाड़ दिये जाते हैं तब ये मौन धारण कर लेते हैं. जब किसी और देश में किसी का हाथ काट दिया जाता है तो भी ये चुप रहते हैं.#RetdOfficersBackLoveJehadLaw #DeshKiBahas