News Nation Logo

BREAKING

Banner

जम्मू-कश्मीर में महीनों तक संचार सिस्‍टम बंद रहा तो किसी को चिंता नहीं हुई कि बच्चे कैसे पढ़ेंगे : आलोक शर्मा 

Updated : 04 January 2021, 11:28 PM

आंदोलन के बहाने 'सिस्टम' क्यों हाईजैक? आंदोलन की आड़ में 'अर्थतंत्र' को नुकसान क्यों? विरोध के नाम पर हुड़दंग, पंजाब में करोड़ों फोन ठप्प, इन मुद्दों पर कांग्रेस प्रवक्‍ता आलोक शर्मा ने कहा, पहले कहा गया कि चीन से पैसा आ रहा है. अब कहा जा रहा है कि कांग्रेस फंडिंग कर रही है. किसानों को नक्सली कहा गया, खालिस्तानी कहा गया, टुकड़े- टुकड़े गैंग कहा गया. अगर चीन और पाकिस्तान से पैसे आ रहे हैं तो केंद्र सरकार क्या कर रही है. जब जम्मू-कश्मीर में कई महीनों तक मोबाइल टावर बंद रहे तब किसी को चिंता नहीं हुई कि बच्चे कैसे पढ़ेंगे. जैसे आपने एक हैशटैग जस्टिस फॉर सुशांत चलाया था वैसे ही एक हैशटैग जस्टिस फॉर किसान चला दीजिए. पंफलेट बंट रहे हैं तो दिल्‍ली पुलिस कार्रवाई क्‍यों नहीं कर रही है. क्या पूंजीवादियों का विरोध करना देशद्रोह है. 60 किसान आंदोलन में शहीद हो गए और आप लोग प्रवचन दे रहे हैं.#मोबाइल_टावर_को_नुकसान_क्यों #DeshKiBahas