News Nation Logo

ये महिलाएं हैं 6,000 रुपए प्रतिमाह पाने की हकदार, ऐसे करें आवेदन

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 26 Jul 2022, 07:22:53 PM
govt scheem12

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • केन्द्र सरकार ने शुरू की थी महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्कीम 
  • आवेदन के लिए संबंधित विभाग में कुछ डॅाक्यूमेंट्स जमा करने होते हैं

नई दिल्ली :  

Government Scheme: केन्द्र सरकार लगातार महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने के लिए नई-नई योजनाएं शुरू कर रही हैं. इसी क्रम में अब महिलाओं को भी आर्थिक मदद के लिए केन्द्र सरकार (central government)ने स्कीम शुरु की है. हालाकि ये स्कीम काफी पुरानी है. लेकिन इसके नियमों में कुछ बदलाव किया गया है. योजना के तहत महिलाओं के खाते में 6000 रुपए (6000 rupees in the account) केन्द्र सरकार जमा करेगी.  सरकार का उद्देश्य ऐसी महिलाओं को आत्मनिर्भर (make self-reliant) बनाना है, जिनके पास कोई भी रोजगार का साधन नहीं है.  प्रधानमंत्री मातृत्व योजना (PM Matritva Vandana Yojana) के माध्यम से मां अपने शीशु की देखभाल कर सकती है.  स्कीम के तहत केन्द्र सरकार ये पैसा महिलाओं के खाते में तीन किस्तों में ट्रांसफर ( installments)करती है. 

यह भी पढ़ें : Bank close : अगस्त माह में 18 दिन बंद रहेंगे बैंक, RBI ने किया ऐलान

आपको बता दें कि केन्द्र सरकार की इस योजना का लाभ सिर्फ महिलाओं को दिया जाता है.  (PMMVY Scheme) के तहत उन बेरोजगार महिलाओं की मदद की जाती है. जिनकी आय न्यूनतम है. प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में पहली बार गर्भ धारण करने वाली और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है. इस योजना की शुरुआत 1 जनवरी 2017 को हुई थी. इसको प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना के नाम से भी जाना जाता है. 

योजना का उद्देश्य मां और बच्चे दोनों की अच्छे से देखभाल करना है, जिसके लिए सरकार उनको 6000 रुपये की आर्थिक सहायता देती है. इस पैसे को सरकार 3 चरणों में देती है. पहले चरण में 1000 रुपये, दूसरे चरण में 2000 रुपये और तीसरे चरण में 2000 रुपये गर्भवती महिलाओं को दिए जाते हैं. वहीं, आखिरी 1000 रुपये सरकार बच्चे के जन्म के समय अस्पताल में देती है.

First Published : 26 Jul 2022, 07:22:53 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.