News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

PM Shadi Shagun Yojana: मोदी सरकार बेटियों को दे रही है 51,000 रुपये का तोहफा, जानिए कैसे उठाएं फायदा

PM Shadi Shagun Yojana (शादी शगुन योजना): केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय के तहत कार्यरत संस्थान मौलाना आज़ाद शिक्षा फाउंडेशन ने शादी शगुन योजना का प्रस्ताव दिया था.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 04 Jan 2022, 10:39:35 AM
PM Shadi Shagun Yojana (शादी शगुन योजना)

PM Shadi Shagun Yojana (शादी शगुन योजना) (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • प्रधानमंत्री मोदी ने 8 अगस्त 2017 को शादी शगुन योजना की शुरुआत की थी  
  • अल्पसंख्यक लड़कियों में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए शुरू हुई थी योजना

नई दिल्ली:

PM Shadi Shagun Yojana (शादी शगुन योजना): केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने देश की अल्पसंख्यक समुदाय की लड़कियों में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के मकसद से प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना (PMSSY) को शुरू किया है. शादी शगुन योजना के तहत शादी से पहले स्नातक की पढ़ाई पूरी करने वाली अल्पसंख्यक समुदाय की युवतियों को सरकार की ओर से 51,000 रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है. बता दें कि देश में अल्पसंख्यक समुदाय में मुस्लिम समुदाय की आबादी सबसे ज्यादा है. खास बात यह है कि मुस्लिम समाज में उच्च शिक्षा की स्थिति काफी खराब है और यही वजह है कि उनकी स्थिति को सुधारने के लिए शादी शगुन योजना को शुरू किया गया है.

यह भी पढ़ें: बगैर इंटरनेट के भी हो सकेगा डिजिटल पेमेंट, जानिए कितने रुपये तक कर सकेंगे लेनदेन

किसे मिलेगा शादी शगुन योजना का फायदा
केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय के तहत कार्यरत संस्थान मौलाना आज़ाद शिक्षा फाउंडेशन ने शादी शगुन योजना का प्रस्ताव दिया था. अल्पसंख्यक मंत्रालय द्वारा प्रस्ताव के पास होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 अगस्त 2017 को शादी शगुन योजना की शुरुआत की थी. बता दें कि शादी शगुन योजना का फायदा ऐसी मुस्लिम लड़कियों को ही मिलेगा जिन्होंने स्कूली स्तर पर बेगम हजरत महल राष्ट्रीय छात्रवृत्ति (https://bhmnsmaef.org/maefwebsite/) हासिल किया है.

यह भी पढ़ें: सरकार हर महीने इन लोगों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करेगी 5,000 रुपये, जानिए कैसे मिलेगा फायदा?

बेगम हजरत महल राष्ट्रीय छात्रवृत्ति के लिए सिर्फ 6 अधिसूचित अल्पसंख्यक समुदाय मुस्लिम, ईसाई, सिख,  बौद्ध, जैन और पारसी से संबंधित छात्राएं ही पात्र हैं. केंद्र सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय से शादी शगुन योजना के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल की जा सकती है.

First Published : 04 Jan 2022, 10:37:45 AM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.