logo-image
लोकसभा चुनाव

अब महंगा होगा मोबाइल रिचार्ज कराना, तीन साल बाद दूरसंचार कंपनियों ने की प्लानिंग

Mobile recharge expensive: मोबाइल यूजर्स के लिए ये खबर थोड़ी दुखद हो सकती है. क्योंकि ज्यादातर दूर संचार कंपनियों ने चुनाव बाद रिचार्ज के दामों में बढ़ोतरी करने की प्लानिंग कर ली हैं.

Updated on: 12 Apr 2024, 10:24 AM

highlights

  • चुनाव बाद अचानक ज्यादा चुकाने पड़ेंगे प्रतिमाह रिचार्ज के पैसे
  • सभी कंपनीज बढ़ाएंगी रिचार्ज के दाम, दूरसंचार कंपनियों ने कसी कमर
  • 15-17 प्रतिशत शुल्क बढ़ाने की तैयारी, 3 साल बाद  यूजर्स को चुकानें होंगे ज्यादा पैसे 

नई दिल्ली :

Mobile recharge expensive: मोबाइल यूजर्स के लिए ये खबर थोड़ी दुखद हो सकती है. क्योंकि ज्यादातर दूर संचार कंपनियों ने चुनाव बाद रिचार्ज के दामों में बढ़ोतरी करने की प्लानिंग कर ली हैं. जैसे ही आचार संहिता खत्म होगी साथ ही नई सरकार का गठन होगा. वैसे ही दूर संचार कंपनी रिचार्ज के दामों में बढ़ोतरी कर देंगी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों ने टैरिफ बढ़ाने की पूरी तैयारी कर ली है. यानि अब मोबाइल यूजर्स को पहले से ज्यादा पैसा चुकाना होगा.  यही नहीं कंपनियों से मिली जानकारी के मुताबिक इस बार लगभग 15 से 17 प्रतिशत तक रिचार्ज का पैसा बढ़ाया जाएगा. आचार संहिता के तुरंत बाद दरे बढ़ाने की प्लानिंग है. 

क्या कहती हैं दूर संचार कंपनी 
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक देश में 19 अप्रैल से 1 जून तक लोकसभा चुनाव है.  4 जून को मतगणना की जाएगी. साथ ही 10 जून तक नहीं सरकार का गठन हो जाएगा. इसके तुरंत बाद दूर संचार  कंपनियां 15 से 17 फीसदी तक मोबाइल रिचार्ज के दामों में इजाफा कर देंगी. बताया जा रहा है पिछले तीन सालों से रिचार्च के दाम जस के तस बने हैं. इसलिए अब दूर संचार कंपनियों ने रिचार्ज के दाम बढ़ाने की प्लानिंग की है. जानकारी के मुताबिक आखिरी बार दिसंबर, 2021 में शुल्क में करीब 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई थी. यदि  17 फीसदी की जाती है तो  300 का रिचार्ज सीधे  351 रुपये का हो जाएगा. इसलिए अब मोबाइल यूजर्स को जेब ढीली करने का समय आ गया है. 

ग्राहकों की जेब होगी ढीली
जीयो, वोडाफोन, एयरटेल सभी कंपनियां रिचार्ज के दाम बढ़ाने जा रही है. जिससे ग्राहकों को काफी नुकसान होगा. छोटा रिचार्ज कराने वाले लोगों के इसका ज्यादा नुकसान देखने को मिलेगा.  क्योंकि जो लोग जून से पहले ही अपना एक साल का रिचार्ज करा लेंगे. उन्हें ये महंगाई एक साल बाद ही दिखाई देगी. क्योंकि अभी जो रिचार्ज होगा वो अभी के दामों में होगा. यानि सालभर या छह माह का  रिचार्ज कराने वालों को कुछ फायदा होने की उम्मीद जताई जा रही है.  रिचार्ज कूपन पर भी सेम रेट बढाए जाएंगे. हालांकि अब रिचार्ज कूपन से रिचार्ज करने वालों की संख्या न के बराबर है. सभी लोग ऑनलाइन ही अपने नंबर्स को रिचार्ज करते हैं .