News Nation Logo

LIC Jeevan Lakshya Policy: बेटी के लिए LIC की ये शानदार स्कीम, रोजाना 125 रुपये जमा करें शादी पर पाएं 27 लाख रुपये

LIC Jeevan Lakshya Policy: जीवन लक्ष्य स्कीम के तहत पॉलिसी के शुरू हो जाने के बाद पॉलिसी का लक्ष्य किसी भी हाल में समाप्त नहीं होता है. यही वजह है कि बीमाधारक की मृत्‍यु हो जाने पर परिवार को कोई प्रीमियम नहीं देना होगा.

Business Desk | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 07 Oct 2021, 02:39:36 PM
LIC Jeevan Lakshya Policy

LIC Jeevan Lakshya Policy (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • फिक्‍स्‍ड इनकम के साथ पूंजी की सुरक्षा की गारंटी
  • मैच्योरिटी अमाउंट सेक्शन 10डी के तहत टैक्स फ्री 

नई दिल्ली:

LIC Jeevan Lakshya Policy: अगर आप भी अपने बच्चों के भविष्य को लेकर परेशान हैं तो अब सारी चिंता भूल जाइए. हम आपको LIC की एक ऐसी पॉलिसी के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी अपने बच्चों की पढ़ाई से लेकर उनकी शादी तक की हर चिंता दूर कर सकेगी.  LIC की इस स्कीम का नाम है जीवन लक्ष्य (LIC Jeevan Lakshya) जिसका टेबल नंबर है 933. इस पॉलिसी की खास बात यह है कि इसमें फिक्‍स्‍ड इनकम के साथ पूंजी की सुरक्षा की गारंटी मिलती है. इसमें रोज 125 रुपए जमा करने पर 27 लाख रुपए मिलते है. इस पॉलिसी की खास बात ये है कि यह प्लान 25 साल के लिए है, लेकिन आपको प्रीमियम केवल 22 साल तक ही भरना है. इस स्कीम के लिए पॉलिसी टर्म 13 से 25 सालों का है.

यह भी पढ़ें: IRCTC रामभक्तों के लिए लेकर आया स्पेशल ऑफर, इन जगहों पर मिलेगा घूमने का मौका

स्कीम के लिए योग्यता 

जीवन लक्ष्य स्कीम के तहत पॉलिसी के शुरू हो जाने के बाद पॉलिसी का लक्ष्य किसी भी हाल में समाप्त नहीं होता है. यही वजह है कि बीमाधारक की मृत्‍यु हो जाने पर परिवार को कोई प्रीमियम नहीं देना होगा. वहीं, बेटी को पॉलिसी के बचे सालों के दौरान हर साल सम अश्योर्ड का 10 फीसदी मिलता है. प्रीमियम महीनवारी, तिमाही, छमाही और सालाना आधार पर जमा किया जा सकता है. एलिजिबिलिटी की बात करें तो इसके लिए मिनिमम एंट्री एज 18 साल और मैक्सिमम एंट्री एज 50 साल है. मैक्सिमम मैच्योरिटी एज 65 वर्ष है. प्रीमियम पेइंग टर्म का बात करें तो यह पॉलिसी टर्म से 3 साल कम होता है. इसके साथ LIC दो तरह का राइडर- एक्सिडेंटल डेथ एंड डिसएबिलिटी राइडर की सुविधा देता है. दूसरा राइडर न्यू टर्म अश्योरेंस राइडर है.

मैच्योरिटी बेनिफिट
पॉलिसी होल्डर के जिंदा रहने पर सम अश्योर्ड के साथ-साथ सिंपल रिविजनरी बोनस का लाभ मिलेगा. इसके अलावा, एडिशनल बोनस का भी लाभ मिलता है. पॉलिसी के दो साल पूरे होने पर लोन का भी लाभ मिलता है. इस पॉलिसी के लिए प्रीमियम जमा करने पर 80सी के तहत डिडक्शन का लाभ मिलता है. मैच्योरिटी अमाउंट सेक्शन 10डी के तहत टैक्स फ्री होता है. मिनिमम सम अश्योर्ड 1 लाख हो सकता है. 

यह भी पढ़ें: 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी पर फिटमेंट फैक्टर का कितना पड़ता है असर, 2.57 से बढ़कर 3 हुआ तो कितनी बढ़ जाएगी सैलरी?

उदाहरण के तौर पर
अगर कोई 10 लाख का सम अश्योर्ड 30 साल की उम्र में लेता है तो उसके लिए हर महीने आपको 3800 रुपए के करीब जमा करने होंगे. इस लिहाज से रोज आपको 125 रुपये बचाने होंगे. हर महीने 3800 रुपए जमा करने पर आपको 25 साल बाद 27 लाख रुपए मिलेंगे. वहीं, इस पॉलिसी को लेने के लिए आपको आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, कोई एक पहचान पत्र, एड्रेस प्रूफ, जन्म प्रमाण पत्र और पासपोर्ट साइज फोटो जैसे डॉक्युमेंट देने होंगे.

First Published : 07 Oct 2021, 02:39:36 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.