News Nation Logo

रेल यात्रा को सुरक्षित बनाने के लिए मोदी सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने कहा है कि भारत रेलवे (Indian Railway) को 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में 5 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम (Spectrum) मुहैया कराया जाएगा.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 09 Jun 2021, 04:18:26 PM
प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar)

प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • रेलवे को 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में 5 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम (Spectrum) मुहैया कराया जाएगा
  • रेलवे इसके जरिए अपनी संचार प्रणाली में सुधार करेगा और रेल यात्रा को सुरक्षित बनाएगा

नई दिल्ली:

केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने रेल यात्रियों के सफर को सुरक्षित बनाने के लिए एक बड़ा कदम उठाया है. केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री (Union Information and Broadcasting Minister) प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने कहा है कि भारत रेलवे (Indian Railway) को 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में 5 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम (Spectrum) मुहैया कराया जाएगा. उन्होंने कहा कि रेलवे इसके जरिए अपनी संचार प्रणाली में सुधार करेगा और रेल यात्रा को सुरक्षित बनाएगा. उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में रेलवे ऑप्टिकल फाइबर (Optical Fibre) का उपयोग करता है. उन्होंने कहा कि स्पेक्ट्रम की उपलब्धता होने से रेडियो संचार हो सकेगा. 

यह भी पढ़ें: आयकर फाइलिंग पोर्टल को लेकर Infosys के को-फाउंडर नंदन नीलेकणि का बड़ा बयान

मोदी कैबिनेट के अन्य बड़े फैसले
दूसरी ओर केंद्रीय कैबिनेट से रामागुंडम फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स लिमिटेड (Ramagundam Fertilizers and Chemicals Limited) में  निवेश बढ़ाने को भी मंजूरी मिल गई है.

कैबिनेट ने बुधवार को विपणन सीजन 2021-22 के लिए खरीफ फसलों के लिए MSP को मंजूरी दी है. केंद्र सरकार ने कहा है कि पिछले वर्ष की तुलना में एमएसपी में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी की सिफारिश की गई है. तिल में 452 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की सिफारिश की गई है. वहीं अरहर और उड़द की न्यूनतम समर्थन मूल्य में 300 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की सिफारिश की गई है. केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि देश के किसानों की आय दोगुनी करने के लिए मोदी सरकार प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि खरीफ विपणन मौसम 2021-22 के लिए सभी खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य को आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने मंजूरी दी है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार का MSP को उत्पादन लागत के 1.5 गुना (अथवा उत्पादन लागत पर कम से कम 50 फीसदी मुनाफा) के स्तर पर निर्धारित करने की दिशा में एक क्रन्तिकारी फैसला है.

यह भी पढ़ें: UP बनने जा रहा है बिजनेस हब, 40 विदेशी कंपनियां कर रही हैं बड़ा निवेश

MSP है और MSP आगे भी रहेगी: नरेंद्र सिंह तोमर
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में विगत 7 वर्षों में लगातार कृषि के क्षेत्र में एक के बाद एक अनेक ऐसे निर्णय हुए जिससे किसान की आमदनी बढ़े. उन्होंने कहा कि किसान महंगी फसलों की ओर आकर्षित हो, किसान के घर में खुशहाली आये और खेती फायदे का सौदा बने. उन्होंने कहा कि MSP है और MSP आगे भी रहेगी. लगातार रबी और खरीफ की MSP घोषित भी की जा रही है. MSP चल रही है, MSP बढ़ रही है और MSP पर खरीद भी बढ़ रही है. नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि रबी विपणन मौसम 2020-21 (6 जून 2021 तक) में धान की खरीद के लिए किसानों को सीधे DBT के माध्यम से 1,53,515.20 करोड़ रूपए हस्तांतरित किए गए हैं. रबी विपणन मौसम 2020-21 (6 जून 2021 तक) में गेहूं की खरीद के लिए किसानों को सीधे DBT के माध्यम से 82,347.39 करोड़ रूपए हस्तांतरित किए गए हैं.

First Published : 09 Jun 2021, 03:43:33 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो